बालतोड़ का घरेलु उपचार -Treatment of rootstock in hindi

0
237
बलतोड़ का इलाज
बलतोड़

बालतोड़ हमारे शरीर मे हमारे बालो के द्वारा होता है | बालतोड़ होने पर हमको काफी दर्द भी होता है | ये हमारे शरीर में कही भी हो सकता है | पर इसको अधिकतर हमारे गुप्तांग में देखा जाता है | जिसकी वजह से हमको चलने में भी दिक्कत होने लगती है | बालतोड़ होने से हमको और भी कई परेशानी का सामना करना पड़ता है | हमको इससे बचने के लिये कुछ उपाय करने चाहिये जैसे की हमको अपने शरीर को साफ़ रखना चाहिये | अपने शरीर के बालो को अधिक बड़ा ना होने दे|अगर आपको बालतोड़ हो जाये तो किस तरह आपको अपना ख्याल रखना चाहिये | तो आज हम इसी विषय पर बात करेंगे की कैसे हम बालतोड़ हो जाने पर अपने शरीर को ठीक करे |

बालतोड़ होने पर इलाज

  • हल्दी का प्रयोग करे :-

हल्दी हमारे शरीर के घाव को भरने में हमारी काफी मदद करती है | अगर आपको बालतोड़ हो जाये तो हल्‍दी के पाउडर का लेप बनाकर उसको बालतोड़ पर लगाने से बालतोड़ जैसी बीमारी से आपको जल्‍दी छुटकारा मिल जायेगा | हमारी हल्‍दी में कई एंटी-इफ्लेमेटरी और नैचुरल ब्‍लड प्‍यूरीफायर मौजूद होते है | हमारे शरीर को बालतोड़ के कारण होने वाली सूजन और दर्द को दूर करके हमारे शरीर को काफी आराम दिलाते है | इसी लिये अगर आपको भी ये परेशानी हो जाये तो आपको तुरंत हल्दी का प्रयोग करना चाहिये | आपको इससे जल्द ही आराम मिल जायेगा |

  • मेहंदी के पत्तो को लगाये :-

मेहंदी केवल हमारे शरीर के अंदरूनी हिस्सो को ही राहत नही पहुचाती है | मेहंदी को पीस कर अपने सर पर लगाने से हमारा दिमाग काफी शांत रखता है | मेहंदी को हम अगर अपने बालतोड़ वाले हिस्‍से में लगाये तो हमको जलन व दर्द से राहत मिलेगी | इस रोग को ठीक करने में मेहंदी बहुत ही उपयोगी उपाय हो सकता है | मेहंदी में मौजूद ठंडक वाले गुण इस रोग में जलन और दर्द को शांत करने में हमारी मदद करते हैं | आपको मेहंदी को पीसकर भिगोकर दे फिर इसको अपने बालतोड़ की जगह पर गाढ़ा-गाढ़ा लेप लगाये | आपको ये सुबह और रात को लगाने से आपको इस बीमारी में जलन दर्द व इसको पूरी तरह ठीक करने में काफी मदद मिलेगी |

नीम को सभी बीमारियों के इलाज के लिये सबसे कारगर उपाय माना जाता है | नीम में एंटीबैक्टीरियल के साथ साथ एंटीमाइक्रोबियल भी गुण होता है | जो बालतोड़ को आपकी त्वचा से पूरी तरह से खत्म करने में आपकी बहुत मदद करता है | इसका प्रयोग हमको इस तरह करना है | इस बीमारी को ठीक करने के लिये नीम की पत्तियों को लेकर उसको पीसकर लेप उसका बना लें | फिर इस लेप को अपनी त्वाचा पर लगाये जहा आपको ये परेशानी है | ऐसा करने से आपको जल्द ही राहत मिल जाएगी |

  • प्‍याज का उपयोग :-

प्‍याज का सेवन हमें गर्मियो में लू से तो बचाता ही है | साथ साथ प्याज के एंटीसेप्टिक गुण हमको और भी कई बीमारियों से हमारी रक्षा करते है | इसी वजह से प्याज हमारी मदद बालतोड़ में भी करती है | अगर आपको भी ये बीमारी हो गयी है तो हमको प्‍याज का एक स्‍लाइस को अपने घाव पर लगाना चाहिये | अगर प्याज को हम हल्दी के साथ लगाकर बांध ले तो आपको कुछ ही दिनों में इससे राहत मिल जाएगी | आपको भी अगर ये परेशानी हो तो जल्द ही प्याज का प्रयोग करे |

  • दही और जीरा पाउडर का प्रयोग :-

अगर हमको ये परशानी लगातार हो रही है | तो हमको दही और जीरे के इस्तेमाल से हम इस बीमारी को अपने शरीर से दूर कर सकते है | अगर आपके पास जीरा पाउडर नही है तो इसकी जगह आप काली मिर्च के पाउडर का इस्‍तेमाल कर बालतोड़ को दूर कर सकते है | आपको जीरे को बारीक पीसकर उसे दही में मिलाकर इसका एक पेस्‍ट बनाकर इस बीमारी की जगह पर लगाना है | इससे आपको बालतोड़ की समस्‍या से जल्‍दी छुटकारा मिल जायेगा | आप इन उपायों के प्रयोग से भी अपने शरीर से इस बीमारी को जड़ से मिटा सकते है |

  • फिटकरी लगाये :-

फिटकरी भी बालतोड़ के लिये काफी अच्छा उपाय होता है | क्योंकि फिटकरी में हमारे शरीर के घाव भरने वाले तत्व होते है|इसके प्रयोग से हम अपने बालतोड़ को जल्दी ठीक कर सकते है | फिटकरी में पोटेशियम एल्युमिनीयम सल्फेट होता है जो हमारे शरीर के घाव भरने में हमारी मदद करता है | फिटकरी को हम दूध के साथ भी पी सकते है | हमको फिटकरी को पीस कर फिर इसको दूध में मिलाकर रोजाना रात को पीने से आपको इस बीमारी में काफी आराम मिलेगा |

  • आटा का प्रयोग :-

आटा भी बालतोड़ को ठीक करने के लिये काफी अच्छा उपाय है | अगर आपको ये बीमारी हो जाये तो आपको सबसे पहले आटा की लोई बनाकर इसको बालतोड़ पर लगाकर कपडे से बंधना चाहिये | जिससे आपको इस बीमारी से होने वाले दर्द और सूजन से जल्दी राहत मिल जाएगी | आटा के प्रयोग से हम इस बीमारी को जड़ से दूर कर सकते है |

दोस्तों अगर आपके परिवार में किसी को ये समस्या है | तो आज से ही आपको ये उपाये करने की सलाह उनको देनी चाहिये | इन उपायों से आपको जल्द ही आराम मिलेगा |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.