शुगर का उपचार आसन तरीके से

शुगर का उपचार बहुत जरुरी है | क्योंकि आज की वयस्त जीवन में हमको स्वस्थ रहना बहुत जरुरी है | और अगर हम अपने शरीर पर ध्यान नहीं देंगे तो हमको कई प्रकार की बीमारी का सामना करना पड़ सकता है | इसी लिए हमको स्वस्थ रहने के लिए कुछ जरुरी बातों का ध्यान देना पड़ेगा | आज हम शुगर जैसी बीमारी के बारे में बात करेंगे |

आज कल शुगर की बीमारी कई इंसानो के परेशानी का कारण बनी हुई है | शुगर की बीमारी किसी को भी हो सकती है इसी लिए हमको अपनी सेहत पर कुछ इस तरह ध्यान देना होगा | क्योंकि शुगर की बीमारी हमारी बदलती जीवनशैली की वजह से हमारे शरीर में जन्म लेती है | हमारा गलत खानपान हमको मोटा करता है और इसी कारण हमको शुगर जैसी बीमारी होने लगती है | तो आइये जानते है की किस तरह हम इस बीमारी से अपने शरीर को दूर रख सकते है |

शुगर का उपचार करने का आयुर्वेद और घरेलु नुस्खा :-

  • मैथी के दाने को खाये :-

मैथी के सेवन से भी हम अपने शरीर में शुगर जैसी बीमारी को ठीक कर सकते है | मैथी आपकी रसोई में अगर उपलब्ध है | तो मैथी के दाने रात को सोने से पहले एक गिलास पानी में डालकर भिगो दें| फिर अगली सुबह उठकर इसको खाली पेट इसके पानी का सेवन करे | और मैथी के दाने चबाकर खाये | मैथी के दानो को खाने से आपको शुगर जैसी बीमारी में काफी आराम मिलयेगा | इस चीज को आपको लगातार तीन महीने तक करना है|

इसको तीन महीने तक खाने से आपके शुगर की परेशानी बिलकुल खत्म हो जाएगी | और आपकी शुगर की रिपोर्ट भी एकदम नार्मल आ जाएगी|जिस किसी को भी अगर शुगर हमेशा बढ़ी ही रहती है | वो लोग कम से कम 6 महीने तक इसका सेवन करें | मैथी शुगर की सबसे अच्छी और सबसे सस्ती औषधि है| और मैथी खाने का कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता|

  • एलोवेरा के रस का सेवन :-

एलोवेरा के सेवन से भी आप शुगर का उपचार या इस बीमारी को कम कर सकते है | एलोवेरा में कई चमत्कारी गुण होते है | सबसे पहले एलोवेरा को लेकर उसको ऊपर से छील लें | फिर उसके अंदर से जो पारदर्शी जैल निकलता है उसका जूस बनाकर उसका सेवन करे या फिर इसको आप खा भी सकते हैं| इसका सेवन हमको सुबह खाली पेट करना चाहिए है| इसका सेवन लगातार करने से हमको इस बीमारी को काम करने में काफी मदद मिलेगी

  • शुगर का उपचार त्रिफला चूर्ण से :-

त्रिफला को अगर हम मैथी के दानों के साथ चूर्ण बनाकर सेवन करे तो भी हम इस बीमारी को कम कर सकते है | हमको एक चम्मच मैथी का चूर्ण और एक ही चम्मच त्रिफला चूर्ण को एक गिलास में पानी के साथ भिगो कर डाल दे | फिर अगली सुबह उठकर इस पानी का सेवन करे | हमको पानी को छानना नहीं है | चूर्ण और पानी सहित इसका सेवन हमको करना है | इस तरह करने से हमको शुगर जैसी बीमारी से तीन महीनो में ही राहत मिल जाती है |

  • करेले का जूस का सेवन :-

करेला का सेवन काफी लाभकारी होता है | शुगर के मरीजों को के लिए करेला सबसे बढ़िया सब्जी मानी जाती है | अगर हम सुबह खाली पेट करेले का जूस निकालकर इसका सेवन करे तो हमको इस बीमारी के इलाज में और भी जल्दी असर दिखाई देगा | अगर आपको जूस ज्यादा कड़वा लग रहा है | तो इसमें थोड़ा सा भी पानी मिलाकर इसका सेवन कर सकते है | अगर हम करेले को एलोवेरा के साथ मिलाकर इसका जूस बनाकर इसका सेवन करें तो हमको शुगर के साथ साथ और भी कई बीमारियों से आराम मिल जायेगा |

  • जामुन की गुठली सूखा कर सेवन करने से :-

शुगर से पीड़ित व्यक्तियोंको जामुन का सेवन भी अधिक मात्रा में करना चाहिए | | जामुन भी इस बीमारी के मरीज के लिए सबसे अच्छा फल माना जाता है | हमको जामुन को खाकर उसकी गुठली को धूप में सूखा लेना चाहिए | और फिर उसको पीसकर उसका चूर्ण बना लेना चाहिए | इस चूर्ण को हमको सुबह उठकर खाली पेट गर्म पानी में मिलाकर इसका सेवन करना चाहिए | इस तरह भी हम शुगर को अपने शरीर से काम कर सकते है |

  • तुलसी की पत्तियां :-

तुलसी की पत्तियों को खाने से शुगर जैसी बीमारी को हम काफी हद तक कम कर सकते है |तुलसी की पत्तियो में एंटी- ऑक्सीडेंट के गुण होते हैं | जो हमको कई रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करते हैं |अगर हम सुबह उठकर खाली पेट रोजाना तीन से चार तुलसी की पत्तियो का सेवन करे तो हम इस बीमारी से छुटकारा पा सकते है |

  • गेहूं के बीज का सेवन :-

इसका सेवन हमको जब करना चाहिये जब गेहूं के बीज अंकुरित होने लगे | और गेहूं के बीज से छोटी-छोटी पत्तियां निकलना शुरू हो जाये | गेहूं के बीज शुगर की अच्छी औषधि मानी जाती है | इसको हम घर पर ही एक मिटटी के बर्तन में थोड़ी दी मिटटी डालकर इसको उगा सकते है | जब ये बीज अंकुरित होने लगें और इनमे से पत्तियां निकलने लगें | तो इन पत्तियों को काट कर इन पत्तियों का सेवन करें इस तरह आपकी शुगर की परेशानी में कमी आएगी और कुछ दिनों बाद आप इस बीमारी से मुक्त हो जाओगे |

  • नीम की पत्तियां :-

नीम को कई बीमारियों का नासक भी माना जाता है | नीम के पत्ते हमारे शरीर में इन्सुलिन के निर्माण करते हैं| और हमारे शरीर में डायबिटीज को बढ़ने नहीं देते | हमें इसका सेवन रोजाना खाली पेट करना चाहिये | हमको रोज ताजा नीम के पत्ते को चबाने से शुगर जैसी बीमारी में आराम मिलता है | चाहे तो आप नीम की पत्तियों का रस निकालकर इसको रोजाना एक से दो चम्मच इसका रस पियें |जिससे आपको कई बीमारियों से भी दूर रखेगा |

  • सुबह टहलने जायें :-

हमको रोजाना सुबह टहलने जाना चाहिये |क्योंकि जो लोग सुबह टहलने के लिये जाते है | उन लोगो की शुगर की बीमारी बिना किसी दवाई के ही कण्ट्रोल में रहती है | अगर आप सुबह आधा घंटा घूमते है |तो ये आपके रक्त में ग्लूकोज के लेवल को नियंत्रित रखता है | और हमको शुगर जैसी परेशानी से दूर रखता है |

अगर आपको भी शुगर जैसी बीमारी है | तो आज से ही आपको दिए हुये उपाए शुरु कर देना चाहिये जिससे आपको अपनी इस बीमारी को खत्म करने मे काफी सहायता मिलेगी |

डॉक्टर विक्रांत गौर

डॉक्टर विक्रांत गौर

(B.A.M.S.) रजिस्ट्रेशन न  - DBCP / A / 8062 पूर्व वरिष्ठ सलाहकार  जीवा आयुर्वेद दिल्ली ,  फरीदाबाद मेडिकल सेंटर ,पारख हॉस्पिटल फरीदाबाद में 5 साल का अनुभव  पाइल्स, हेयर फॉल, स्किन प्रॉब्लम, लिकोरिया रोगों  में एक्सपर्ट

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.