पंतजलि गेहूं जवारा पाउडर

पंतजलि गेहूं जवारा पाउडर के फायदे व सेवन तरीका – PATANJALI WHEAT GRASS POWDER In Hindi

पंतजलि गेहूं जवारा पाउडर PATANJALI WHEAT GRASS POWDER In Hindi शुद्ध गेहूं के जवारों से मिलकर बनाया गया एक आयुर्वेदिक पाउडर है, इस दवा में पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर में मौजूद एनीमिया, पेट रोग, सर्दी जुखाम, कैंसर, थायराइड व सेक्स संबंधी रोगों के लिए यह अनमोल औषधि है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की बीमारियों से ग्रस्त है, तो आपको भी इस दवा का सेवन जरुर करना चाहिए |

पंतजलि गेहूं जवारा पाउडर में मिलाई जाने वाली जड़ी-बूटी :

  • गेहूं के जवारे
  • दालचीनी
  • देवदारु
  • मुलेठी
  • अश्वगंधा
  • शतावर
  • नागकेशर

जैसी जड़ी-बूटियों के द्वारा इस दवा का निर्माण किया जाता है, इन औषधियों में प्रचुर मात्रा में आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, जिंक, कैरोटीन, फोलेट, सोडियम व फाइबर जैसे तत्व पाए जाते है | जो शरीर को स्वस्थ रखने में लाभदायक साबित होते है |

पंतजलि गेहूं जवारा पाउडर PATANJALI WHEAT GRASS POWDER In Hindi के लाभ :

एनीमिया रोग को ख़त्म करता है

एनीमिया से ग्रस्त मरीज को नियमित इस पाउडर का सेवन करना चाहिए, इस दवा में पाया जाने वाला क्लोरोफिल तत्व मरीज के शरीर में रक्त की कमी को दूर करके मरीज को स्वस्थ बनाता है | गर्भावस्था के बाद महिलाये भी इस दवा का सेवन कर सकती है |

लिवर रोग में लाभकारी है यह पाउडर

लिवर से जुड़े रोगों में इस पाउडर का सेवन अति लाभकारी माना जाता है, यह दवा लिवर में मौजूद गंदगी बहुत ही आसानी से ख़त्म करके लिवर को स्वस्थ बनाती है, बच्चों को यह दवा देने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर ले |

त्वचा के देखभाल में सहायक है

आज कल बढती तेज धुप के कारण कई महिला व पुरुष की त्वचा काली पड़ने लगती है, जिसके कारण उनको कई प्रकार की दिक्कत का सामना करना पड़ता है, पंतजलि गेहूं जवारा पाउडर सनबर्न जैसी समस्या को बहुत ही आसानी से खत्म करने में मदद करता है |

भूख बढ़ाने में लाभकारी है पाउडर

भूख न लगने की समस्या आज कल सभी वर्ग के लोगों में देखी जाती है, इस परेशानी के कारण व्यक्ति एनीमिया व कमजोरी जैसी बीमारी से भी ग्रस्त हो सकता है, इस पाउडर को रोजाना सुबह शाम पानी के घोल कर पीने से मरीज की भूख की समस्या पूर्णरूप से खत्म हो जाती है |

यौन समस्या को ख़त्म करता है

यह दवा यौन समस्या से ग्रस्त व्यक्ति के लिए भी लाभकारी साबित होती है, क्योंकि इस दवा में पाए जाने वाले तत्व शीघ्रपतन, यौन अक्षमता व शुक्राणु को बढ़ाने का काम करती है |

पंतजलि गेहूं जवारा पाउडर का सेवन तरीका

आप इस पाउडर का सेवन रोजाना सुबह शाम पानी व दूध में मिलाकर भी कर सकते है, लेकिन आपको इस दवा का सेवन पैक पर दी हुई सावधानी के अनुसार व डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए, क्योंकि अधिक मात्रा में इस दवा का सेवन स्वास्थ के लिए हानिकारक साबित हो सकता है |

इस दवा से जुड़े किसी भी सवाल के लिए आप हमारे कमेन्ट बॉक्स में लिख कर भी पूछ सकते है |

One Response

  1. Avatar Bijay kant अप्रैल 22, 2020

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.