हाई बी पी का कारण

हाई बी पी या हाई ब्लड प्रेसर होने के कारण व इलाज और परहेज़

हाई बी पी का कारण : उच्च रक्तचाप या हाई ब्लड प्रेशर, जिसे हाईपरटेंशन भी कहा जाता है | यह एक बहुत ही गंभीर रोग है | अगर इसका उचित इलाज सही समय पर न किया जाये हो तो इससे हार्ट अटैक, ब्रेन हेमरेज, जैसी घातक बीमारियां भी हो सकती हैं | इसमें ह्रदय के संकुचन की अवस्था में रक्त वाहिकाओं में खून का दबाव पारे के 140mm से ज्यदा हो जाता है | जिससे ह्रदय द्वारा नसों में खून भेजने में मुश्किल होने लगती है एवं शरीर का ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है | शारीरिक गतिविधियों की कमी जैसे मोटापा, तनाव, धुम्रपान, नशा आदि मनुष्य को ब्लड प्रेशर होने की सबसे खास वजह मानी जाती हैं |

यहाँ हम आपको उच्च रक्त चाप (हाई ब्लड प्रेशर) के कारण और इलाज के बारे में बतायगे |

हाई बी पी का कारण:- 

  • भोजन में ज्यादा मसालेदार चीजों  का सेवन करने से भी उच्च रक्त चाप हो सकता है |
  • लगातार शराब पीने से शरीर में एल्कोहल की मात्रा बढ़ जाती है और खून का संकुचन (बहाव) कम होने लगता है |
  • प्रतिदिन जंक फूड, बर्गर चाऊमीन व पिज्जा आदि के सेवन से भी उच्च रक्त चाप हो सकता है |
  • अपने स्वास्थ की उचित देखभाल और प्रतिदिन व्यायाम आदि न करना हाई ब्लड प्रेशर का कारण बन सकता है |
  • सिगरेट और तम्बाकू का सेवन करने से हाई ब्लड प्रेशर जल्दी बढने लगता है |
  • ज्यादा मात्रा में कॉफ़ी पीने से हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी हो सकती है| कॉफ़ी में पाये जाने वाले कैफीन के सेवन से शरीर का मेटाबोलिज्म गड़बड़ हो जाता है और हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत हो जाती है |
  • कई दिनों तक स्ट्रेस लेने या आपके ज्यादा सोचने, चिंता करने से भी हाई ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है और यही धीरे-धीरे शरीर में ह्रदय सम्बन्धी अन्य घातक बीमारियों का कारण भी बन जाता है |

उच्च रक्त चाप (हाई ब्लड प्रेशर) का बाहर से कोई लक्षण दिखाई नहीं देता है | अगर आप ऊपर लिखित कारणों से प्रभावित हैं और आपको लगता है कि आपको हाई ब्लड प्रेशर कि शिकायत हो सकती है तो आपको सही समय पर चिकित्सीय परामर्श लेकर इसकी जाँच कराते रहना चाहिए, ताकि समय रहते उपचार किया जा सके | हाई ब्लड प्रेशर होने पर न सिर्फ  ह्रदय को क्षति होती है, बल्कि इससे आँखों तक खून पहुचाने वाली धमनियां भी क्षतिग्रस्त हो जाती है, जिससे मरीज को दिखाई देना बंद हो सकता है | हाई ब्लड प्रेशर से किडनी पर भी बुरा असर पड़ता है |

आइये जानते है हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के इलाज :-

हाई ब्लड प्रेशर के इलाज –

हम आपको यहाँ आज हाई बी पी का इलाज और उसके उपाये के बारे में बतायेंगे ताकि आप इन उपायों का उपयोग कर घर बेठे ही इस रोग से राहत पा सकें |

१. लहसुन हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में बहुत उपयोगी होता है | हाई ब्लड प्रेशर प्रभावित रोगी को प्रतिदिन सुबह खाली पेट लहसुन की 2-3 कली चबाना चाहिए |

२. आंवला और शहद मिलाकर पीना हाई ब्लड प्रेशर का एक अचूक इलाज है | एक चम्मच आंवला और एक चम्मच शहद मिलाकर दिन में दो बार सुबह शाम लेने से आपको आराम मिलेगा |

३. हाई ब्लड प्रेशर के इलाज के लिए तरबूज और खसखस बड़े काम की चीज है | तरबूज के कुछ बीज और उतने ही खसखस लेकर दोनों को अलग-अलग पीस ले और इन दोनों को अच्छे से मिला ले, अब इस मिश्रण को प्रतिदिन एक-एक चम्मच सुबह खाली पेट लेना शुरू करें | आपको हाई ब्लड प्रेशर में फायदा अवश्य होगा |

४. ब्राउन चावल खाने से भी हाई ब्लड प्रेशर के उपचार में फायदा होता है, क्योंकि इसमें वसा कि मात्रा कम होती है जो कि हाई ब्लड प्रेशर के मरीज के लिए अच्छा होता है |

५. प्रतिदिन सुबह-शाम सौफ़, जीरा और शक्कर को बराबर मात्रा में पीसकर, इस मिश्रण को एक गिलास पानी में घोल कर पीने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात मिलती है |

६. अगर आपका हाई ब्लड प्रेशर हो जाये तो एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच पीसी हुई काली मिर्च डाल कर इसे हर तीन घंटे में पिए इससे आपको लाभ होगा |

७. तुलसी और नीम हाई ब्लड प्रेशर के उपचार में रामबाण है | आप तीन नीम के पत्ते और पांच तुलसी की पती को पीस कर पानी में मिलाकर उसका घोल बना ले और प्रतिदिन सुबह के समय खाली पेट पियें | ऐसा 10-12 दिन करने से आपको हाई ब्लड प्रेशर में आराम दिखाई देगा |

हाई ब्लड प्रेशर के उपचार में योग एवं व्यायाम भी अत्यंत कारगर साबित होता है | प्रतिदिन प्राणायाम करने से भी इस समस्या से निजात पाया जा सकता है | उदाहरण स्वरुप पहले अपने मुह से जीभ बाहर निकालें और उसे नाली के रूप में बनाये|अब मुह से साँस अन्दर खींचे और मुह बंद कर ले, अब हवा को नाक से निकाले. शुरू में यह प्रकिया पहले आप ५ से 10 बार करें, अब आप इस प्रक्रिया को अपनी सुविधा एवं समय के अनुसार बड़ा सकते है |

हाई ब्लड प्रेशर में आहार और परहेज़ : Diet Plan and prevention for high bp patient in hindi

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होने पर आपको अपने भोजन मे वसा जैसे तेल, घी और कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने वाली भोज्य पदार्थ का सेवन नहीं करना चाइए |कुछ ऐसा आहार लेना चाहिए कि आपके शरीर का वजन और कोलेस्ट्रॉल सामन्य बना रहे|

सफ़ेद सेम का सेवन करें

सफ़ेद सेम का सेवन करना चाहिये | सफ़ेद सेम कैल्शियम, मैग्नीशियम और पोटेशियम प्रदान करता है |आप सफ़ेद सेम का कई प्रकार से सेवन कर सकते है | जैसे सब्जी बनाकर, सूप बनाकर, या सलाद में भी इसका सेवन कर सकते है | सफ़ेद सेम एसिटाइलकोलाइन की मात्रा बढ़ाने के लिये विटामिन बी-1 बहुत भारी मात्रा में देता है | जो हमारे शरीर में एक न्यूरोट्रांसमीटर का काम करता है | और हमारे ब्लड प्रेशर को कम करने में हमारी बहुत मदद करता है |

कद्दू के बीज का सेवन करें

कद्दू के बीजों में जिंक प्रचुर मात्रा में पाया जाता है | जो हमारे शरीर में तनाव को खत्म करने में व ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है | कद्दू के बीज शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाते है| शरीर में जिंक की कमी से भी ब्लड प्रेशर की समस्या आने लगती है| इसीलिये आपको कद्दू के बीज का नियमित रूप से सेवन करना चाहिये|

उच्च रक्त चाप में पोटेशियम का अधिक सेवन करे

पोटेशियम एक ऐसा खनिज प्रदार्थ होता है | जो हमारे ब्लड प्रेशर को कम करने में हमारी बहुत मदद करता है | आपको रोजाना सेम व मटर, गिरियां, पालक, बंदगोभी जैसी सब्जियां, केला, पपीता व खजूर आदि का सेवन कराना चाहिये | जिससे आपके शरीर में पोटेशियम की मात्रा भरपूर अबनी रहेगी | और आपको ब्लड प्रेशर की कोई भी समस्या नही होगी |

सोयाबीन का प्रयोग अधिक करे

सोयाबीन के अन्दर प्रोटीन, प्रोटीन हाइडोंलाइजेट, लेक्टिन, टिंप्सिन इन्हीबिटर, फाइबर, ऑलिगो-सैकराइड, लिनोलिक एसिड, लेसिथिन, स्टेरोल,विटामिन के, विटामिन बी, व फाईटेट जैसे गुणकारी तत्व पाये जाते है | जो ब्लड प्रेशर की समस्या को जड़ से खत्म करने में हमारी बहुत मदद करते है | अगर आप चाहे तो सोयाबीन को सब्जी व सलाद के रूप में भी इसका सेवन कर सकते है |

दही का सेवन कर सकते है

दही के सेवन से हमारे शरीर को प्रोटीन, कैल्‍शियम, राइबोफ्लेविन, विटामिन बी 6 और विटामिन बी 12 काफी भारी मात्रा में मिलते हैं | जो हमारे ब्लड प्रेशर की समस्‍या को जड़ से खत्म करने में हमारी बहुत मदद करते है | दही के सेवन से हमारे शरीर को कैल्शियम भी अधिक मात्रा में मिलता है | कैल्शियम हमारी हड्डियों के विकास में हमारी बहुत सहायता करता है | साथ ही साथ कैल्शियम हमारे दांतों और नाखूनों को भी मजबूत बनाता है | और हमारे ह्रदय को भी स्वस्थ रख ब्लड प्रेशर जैसी समस्या को हमारे शरीर से दूर करता है |

अंडा का सेवन नियमित करे

अंडा पौष्टिक तत्‍वों से भरा हुआ आहार है | अंडे मे दो भाग होते हैं – सफेद और जर्दी अंडा के सेवन से हमारे शरीर को प्रोटीन, वसा,और कई तरह के विटामिन, मिनरल्स, आयरन और कैल्शियम जैसे तत्‍वों से भरपूर होता है | यह हमारी अंडा खाने से हमारा दिल भी स्वस्थ रहता है | जिसकी वजह से हमारा ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है |

ब्लड प्रेशर में क्या नही खाना चाहिये

लाल मांस का सेवन बिल्कुल भी ना करे

ब्लड प्रेशर की समस्या होने पर आपको लाल मांस का सेवन बिल्कुल बन्द कर देना चाहिये | क्योंकि लाल मांस में मायोग्लोबिन, यूरिक एसिड, व कोलेस्ट्राल को बढाने वाले कई तत्व मौजूद होते है | जो ब्लड प्रेशर जैसी समस्या को और भी गंभीर बीमारी में परिवर्तित कर देते है |इसमें पाये जाने वाला एक तत्व कार्निटाइन जो हमारी धमनियों में होने वाले रक्त संचार को नुकसान पहुचता है | अगर आपको इस प्रकार की कोई भी समस्या हो रही है | तो आज से ही बकरे के मीठ का सेवन तुरंत बन्द कर दे|

जंक फ़ूड का सेवन बिलकुल बन्द कर दे

अगर आप रोजाना के जीवन में जंक फ़ूड का सेवन अधिक करते है तो आपके शरीर में कोलेस्ट्राल व फैट की मात्रा अधिक होने लगती है | जिसकी वजह से हमारा रक्त संचार बिगड़ जाता है | और हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर की समस्या होने लगती है |

काफी का सेवन बन्द कर दे

अगर आप रोजाना काफी का सेवन कर रहे है | तो इसके सेवन से आपके शरीर में कैफीन की मात्रा अधिक होने लगती है | जिसकी वजह से आपके शरीर में ब्लड प्रेशर की शिकायत होने लगती है | आपको काफी की जगह ग्रीन टी का सेवन करना चाहिये |

तली भुनी चीजो का सेवन बन्द कर दे

ब्लड प्रेशर की समस्या होने पर आपको तली भुनी चीजो का सेवन तुरंत बन्द कर देना चाहिये | क्योंकि इनमे कोलेस्ट्रॉल, कार्बोहाइड्रेट व फैट की मात्रा बढने लगती है जिसकी वजह से हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर की समस्या जन्म लेती है |

ब्लड प्रेशर की समस्या में कुछ महत्वपूर्ण बातें

  • नामक के अधिक सेवन से भी हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर की समस्या होने लगती है |
  • ब्लड प्रेशर की समस्या में आपको पापड़, चटनी, आचार, व बेकिंग पाउडर का सेवन बन्द कर देना चाहिये |
  • नशीली चीजो को तुरंत ही अपने जीवन से दूर कर देना चाहिये |
  • धुम्रपान को भी हमेशा के लिये छोड़ देना चाहिये| धुम्रपान के अधिक सेवन से इस इस समस्या में और भी तकलीफ होती है |
  • मोटापे पर ध्यान देना चाहिये| ब्लड प्रेशर की समस्या में मोटा होना भी एक वजह होती है|
  • नियमित व्यायाम करना चाहिये| जिससे आपका शरीर फिट व स्वस्थ रहे |

अगर आपको भी ब्लड प्रेशर जैसी किसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो आज से ही अपने जीवन में ये सुधार लाये जिससे आपको ब्लड प्रेशर की शिकायत से जल्द आराम मिल सके|

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.