नार्मल डिलीवरी में माँ अपने बच्चे को प्राक्रतिक तरीके से जन्म देती है | नार्मल डिलीवरी मे माँ को अधिक दर्द होता है , जिसको लेवर पैन भी कहते है | नार्मल डिलीवरी के बाद महिला जल्दी ही स्वस्थ हो जाती है  और नार्मल डिलीवरी के बाद दूसरी बार प्रेगनेंट होने में महिला को कोई परेशानी भी नहीं होती है | सिजेरियन डिलीवरी मे महिला को दर्द कम होता है और सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को खास सावधानियाँ रखनी पड़ती है | सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को संक्रमित होने का खतरा भी बना रहता है| इसीलिये महिला को नार्मल डिलीवरी पर अधिक ध्यान देना चाहिये | जिससे की डिलीवरी के बाद महिला किसी भी बीमारी का शिकार ना हो|

तो आइये जानते है की नार्मल डिलीवरी के लिये महिला को क्या उपाय करना चाहिये|

नार्मल डिलीवरी (सामान्य प्रसव) के लिए क्या हैं सरल , नेचुरल घरेलू उपाय :

  • सुबह शाम सैर सपाटा करे :-

गर्भावस्था में नॉर्मल डिलीवरी के लिए गर्भवती महिलाओं को पैदल टहलना सबसे अच्छा तरीका माना गया है| गर्भावस्था के आपको सुबह शाम का समय सैर सपाटे के लिए निकालना चाहिये | खुली हवा में घूमने, टहलने , सैर करने से आप खुद को बहुत रिलेक्स महसूस करेंगी | ताजी हवा आपके और आपके बच्चे के लिए बहुत फायदेमंद होती है | सुबह या शाम सैर करने से आपको नार्मल डिलीवरी करने मे  काफी मदद मिलेगी |

  • वयायाम करें :-

अक्सर महिलाओ को गर्भावस्था में आराम करने के लिए कहा जाता है, लेकिन महिला को आराम के साथ-साथ वयायाम करना भी जरूरी होता है |क्योंकि वयायाम माँ और बच्चे को स्वस्थ रखने मे माँ की मदद करता है | गर्भावस्था में मांसपेशियों का स्वस्थ्य और मजबूत होना भी बहुत जरूरी होता है, क्योंकि इससे प्रसव के दौरान दर्द से लड़ने में महिला को मदद मिलती है |

इस बात का ध्यान रखें कि वयायाम करते समय महिला ज्यादा भारी चीजों को न उठाए और  वयायाम के लिए किसी विशेषज्ञ की सलाह जरूर ले | नॉर्मल डिलीवरी के लिए एक्सरसाइज और योगा करने से महिला को दर्द कम होता है| अगर आप गलत तरीके से कोई वयायाम कर रही हैं |तो यह आपके बच्चे के लिए हानिकारक हो सकता है और नॉर्मल डिलीवरी में महिला को परेशानी दे सकता है |

  • नींद लेना भी जरुरी है :-

गर्भावस्था के समय माहिला को अच्छी नींद लेनी चाहिये | अच्छी नींद लेने से भी महिला और उसका बच्चा दोनों स्वस्थ रहते है और आपको नार्मल डिलीवरी (सामान्य प्रसव) मे भी मदद मिलती है | अच्छी नींद हमारे शरीर की कई तरह की समस्याओं को भी दूर करती है | इसी लिये अगर आप अपनी नार्मल डिलीवरी चाहती है तो आपको अच्छी नींद लेनी चाहिये |

  • तनाव से दूरी बनाए :-

नोर्मल डिलीवरी (सामान्य प्रसव) के लिये महिला और बच्चे दोनों के लिये जरुरी होता है की महिला तनाव को अपने शरीर से दूर रखे | तनाव लेना एवं डिप्रेशन किसी भी अच्छे काम में रुकावट बन सकता है | इसलिये गर्भावस्था में महिला को तनाव मुक्त रहना चाहिये | गर्भावस्था में तनाव काम्प्लकेशन को भी बढ़ाता है| इसका प्रभाव महिला व बच्चे दोनों पर पड़ेगा | गर्भावस्था के समय आपको शांत और संतुलित रहने की बहुत जरूरत होती है | अगर आप बोर हो रही हो तो कुछ सोचने से अच्छा है कि टीवी पर कुछ प्रोग्राम देख ले या फिर कोई अच्छी किताब भी पढ़ सकती हैं | जिससे आप तनाव से दूर रहेगी और आपको नार्मल डिलीवरी (सामान्य प्रसव) मे भी मदद मिलेगी |

  • सांस लेने वाले प्राणायाम करे :-

गर्भावस्था में नॉर्मल डिलीवरी के लिए आप सांस लेने वाले प्राणायाम भी कर सकती हैं | इसका यह फायदा होता है | की आपके बच्चे को ऑक्सीजन अच्छी मात्रा मे मिलती रहेगी | जिसकी वजह से बच्चे का सही तरह से विकास भी होगा | इसलिए अगर आप नार्मल डिलीवरी चाहती है | तो नियमित रूप से ध्यान और सांस लेने वाले प्राणायाम कीजिए |

  • पानी की कमी ना होने दे :-

गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर में पानी की कमी नही होनी चाहिये | साफ़ पानी न केवल आपको हाइड्रेटेड ही नहीं रखता बल्कि आपको नोर्मल डिलिवरी पाने में भी आपकी बहुत सहायता करता है | गर्भवती महिला को रोजाना 9 से 10 गिलास पानी पीना चाहिये| जो माँ और बच्चे के लिये सेहतमंद साबित होता है | और इससे महिला और बच्चे मे पानी की कमी भी दूर जाती है |तो अगर आप भी नार्मल डिलीवरी चाहती है | तो पानी का जितना हो सके उतना सेवन करे |

  • खानपान अच्छा रखे :-

गर्भावस्था में महिला को कई चीजो का ध्यान देना होता है जिसमे खानपान भी बहुत जरुरी होता है |गर्भावस्था में आप किस चीज का सेवन कर रहे हैं |और किस चीज का नहीं यह भी आपके लिये बहुत जरुरी है| क्यों की खानपान भी आपको नोर्मल डिलिवरी में काफी योगदान देते हैं |गर्भावस्था में आपको सही समय पर और सही आहार खाना चाहिये |

गर्भावस्था में महिला को आयरन और कैल्शियम की कमी नहीं होनी देनी चाहिए | इसके लिए महिला को हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए | महिला को अपने आहार में जूस, अंडा, और फल आदि को शामिल करना चाहिये | इससे महिला और बच्चे दोनों को प्रोटीन और विटामिन भरपूर मात्रा मिलते रहेंगे| और  आपको नार्मल डिलीवरी मे भी काफी मदद मिलेगी |

अगर आप या आपके घर मे कोई गर्भावस्था मे है | और आप नार्मल डिलीवरी चाहती है | तो आज से ही दिए ये उपाय करना शुरु कर दे आपको काफी आराम मिलेगा

डॉक्टर विक्रांत गौर

(B.A.M.S.) रजिस्ट्रेशन न  - DBCP / A / 8062 पूर्व वरिष्ठ सलाहकार  जीवा आयुर्वेद दिल्ली ,  फरीदाबाद मेडिकल सेंटर ,पारख हॉस्पिटल फरीदाबाद में 5 साल का अनुभव  पाइल्स, हेयर फॉल, स्किन प्रॉब्लम, लिकोरिया रोगों  में एक्सपर्ट

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.