गुटका खाने से कैसे होता है कैंसर रोग ?

0
211
गुटका खाने से होने वाले  नुकसान - Damage Of Chewing Gutka

आज के समय में शौक और दिखाबे के कारण लगभग सभी के द्वारा किसी न किसी रूप में नशीले पदार्थो का सेवन किया जाता है | इसमें तम्बाकू उत्पादों का सेवन भी किसी न किसी रूप में किया ही जाता है जिसमे पान मसाला या गुटका भी एक होता है | गुटखे को तम्बाकू में चूना, कत्था और सुपाड़ी को मिलाकर तैयार किया जाता है जिसके बहुत ही लुभावने विज्ञापन आपको देखने, पढने और सुनने को मिलते है | शहर से लेकर गावं तक हर गली में सुविधाजनक रूप से उपलब्ध होने की वजह से शौक शौक में आपको इसकी लत लग जाती है और आप इसका नियमित सेवन करने लगते हैं | ( और पढ़े – गुटका खाना छोड़ने के आसान उपाय )

पान मसाला खाने के जनलेवा नुकसान :

सस्ता और आसानी से मिल जाने की वजह से आज के समय में बहुत से युवाओं द्वारा इसका सेवन किया जाता है और कई सारी महिलाए और युवतियां भी चुपके से गुटके का सेवन करने लगी हैं | अगर आपको इस बात का अंदाजा भी लग जाये की यह छोटे से पैकेट में आने बाला पान मसाला आपकी जान भी ले सकता है तो आप इसे खाना छोड़ देंगे | कुछ साल पहले चंडीगढ़ में हुए एक रिसर्च से इस बात का पता चला है की गुटका सिर्फ आपके दांतों को ही ख़राब नहीं करता है बल्कि यह आपके शरीर के और अंगो के लिए भी बहुत हानिकारक होता है | तो आइये आज हम आपको बताते है गुटका खाने से होने वाले नुकसान…

इससे होने वाले हानिकारक प्रभाव :

मुंबई के एक रिसर्च सेंटर ड्रग एब्यूज इन्फोर्मेशन रिहैबिलिटेशन एंड रिसर्च सेंटर द्वारा किये गए एक सर्वेक्षण में इस बात का पता चला है की गुटका का सेवन करने वाले लोगो के शरीर में हानिकारक पदार्थो की बहुत ही अधिक मात्रा जमा हो जाती है | पान मसाला का सेवन करने के कारण हमारे देश में मुंह और कैंसर के कारण होने वाली मृत्युओं की संख्या बहुत अधिक बढ़ गयी है | पान मसाला सस्ता हो महंगा हो और किसी भी ब्रांड का हो बो सभी आपकी सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक और नुकसानदेह होता है | पान मसाला यानि की गुटका चबाने से आपको दांत ख़राब होने के साथ ही कई सारी स्वास्थ से जुडी गंभीर समस्याये भी उत्पन्न हो जाती है जिनका आपको पता होना बहुत जरुरी होता है | तो आइये जानते है पान मसाला खाने से होने वाले नुकसान…

यह प्रजनन क्षमता का कमजोर करती है –

एक अध्ययन के अनुसार इस बात का खुलासा हुआ है की पान मसाला यानि की गुटका खाने वाले लोगो को कैंसर होने की समस्या के साथ उनके यौन संबंधो पर भी असर पड़ता है | पान मसाला का अत्यधिक सेवन करने की वजह से पुरुषों की प्रजनन क्षमता तक समाप्त हो जाती है | जिससे उन्हें अपने वैवाहिक जीवन में बहुत साड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है |

गर्भवती महिलाओं के लिए बहद नुकसानदायक होता है –

पानमसाला का सेवन करने में महिलाएं भी पीछे नहीं है जिससे महिलाओं को गर्भावस्था के समय बहुत ज्यादा परेशानी होती है | गर्भावस्था के समय तम्बाकू उत्पादों का सेवन करने से पैदा होने वाले बच्चे के वजन पर प्रभाव पड़ता है और कई बार तो गर्भपात तक की स्थिति उत्पन्न हो जाती है | इसके साथ ही महिलाओं के द्वारा गुटके का सेवन करने से उनमे बुढ़ापे के लक्षण जल्दी दिखने लगते है और उनकी प्रजनन क्षमता भी कमजोर हो जाती है |

नींद न आना का रोग होता है –

कई लोगो द्वारा रात में काम करने के लिए गुटके का सेवन किया जाता यह आपको उस समय सही लगता क्योंकि यह आपको रात में जागने को मदद करता है | मगर जब इस तरह पान मसाला का सेवन करते करते लम्बा समय बीत जाता है तो यह आपके लिए अनिद्रा यानी नींद न आने की बीमारी का कारण बन जाता है |

मुख का कैंसर होना तो लगभग तय है –

पान मसाला का लगातार और अधिक मात्रा में सेवन करने से आपके मुंह के अंदर जीभ और गाल के अंदर वाली सतह पर संवेदनशील सफ़ेद सफ़ेद खरांचे उत्पन्न हो जाती हैं | जिनमे कैंसर की कोशिकाएं उत्पन्न होने लगती है, इसके बाद धीरे धीरे आपका मुख खुलना बंद हो जाता है और कैंसर की कोशिकायें पूरे मुंह में फ़ैल जाती है | मुख का कैंसर के कारण कई बार लोगो को अपने मुंह में सर्जरी द्वारा कई अंगो को कटवाना पड़ता है या फिर कई बार जान तक चली जाती है |

आपके डीएनए को होने वाली क्षति होने आगे की पीड़ी मे नुक्सान

गुटका खाने से आपके शरीर के हारमोंस को बहुत अधिक नुकसान होता है इसके साथ इसका ज्यादा सेवन करने से यह आपके डीएनए को भी क्षति पहुँचाने का काम करता है |

फेफड़ों के कैंसर का भी खतरा होता है –

गुटखा का सेवन करने से आपको सिर्फ मुख का कैंसर होने की समस्या ही नहीं होती है | इसका अधिक मात्रा में सेवन आपके लिए मुंह के कैंसर से बढ़कर गला, स्वांसनली से होता हुआ आपके फेफड़ों का कैंसर तक यह कैंसर को फैला देता है |

दिल के लिए हानिकारक होता है

अगर आप पान मसाला खाते है और आपको रक्त चाप से जुडी समस्या है तो यकीन मानिये इस समस्या का कारण आपका गुटका चबाना ही है | तम्बाकू चबाने से रक्तचाप के साथ आपको दिल से जुड़े रोगों के होने की आशंकायें भी बहुत ज्यादा हो जाती हैं |

पेट के लिए नुकसानदायक है

पान मसाला का अधिक सेवन करने से यह पेट से जुडी कई साड़ी समस्याओं का कारण बन जाता है | गुटका पेट में अल्सर और दर्द बना रहना जैसी गंभीर परिस्तिथियों को उत्पन्न करता है | गुटके का सेवन करने वाले व्यक्ति को कब्ज और खट्टी डकारें आने की समस्या बहुत ही आम होती है |

दांतों का गल जाना है

गुटका का लगातार सेवन करने से आपके मसूड़े कमजोर हो जाते है जिससे दांत ढीले और कमजोर हो जाते हैं जिसकी वजह से दांतों में बैक्टीरिया उत्पन्न हो जाता है | इस जमा बैक्टीरिया के प्रभाव के कारण आपके दांत गलना शुरू हो जाते है |

एंजाइम्स पर बुरा प्रभाव पड़ता है

आपके शरीर के प्रत्येक अंग में एक साइप 450 नाम का एक एंजाइम पाया जाता है जो आपके शरीर में हारमोंस को उत्पादित करने में प्रमुख भूमिका निभाता है | गुटका को कई सारे नशीले पदार्थो के मिश्रण से बनाया जाता है और यह सारे नशीले पदार्थ आपके शरीर के एंजाइम्स पर बहुत हानिकारक प्रभाव डालते है इसी तरह पानमसाला का सेवन करने से यह साइप 450 हारमोंस के कार्य करने की क्षमता को भी प्रभावित करता है |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.