बच्चो को डिप्रेसन : ADHS एक बच्चो में होने वाला मनोरोग है और जो हर क्लास रूम में इसकी एक उदाहारण जरुर मिलता है इस रोग से बीमार बच्चो का मन पढ़ाई में नही लगता है और माता पिता भी उनकी दिक्कत समझ नही पाते है और इस रोग के होने के बहुत से कारक जिमेदार होते है उन्ही से बच्चो को डिप्रेसन की समस्या बहुत हो जाती है इसलिये हमे इन बातो का धयान रखना चाहिये जिससे बच्चे डिप्रेसन का शिकार नही हो |

बच्चो को डिप्रेसन के लक्षण :

घर का तनाव

वर्तमान जीवनशैली में बहुत से बच्चे मानसिक तनाव (Depression in childhood) का शिकार हो रहे है क्योकि बच्चो पर स्कूल में और खेलकूदो के क्लबो में उन पर लगातार बेहतर प्रदर्शन करने का दबाब बनाया जाता है फिर घर आकर उन्हें बहुत सा होमवर्क का काम भी होता है तनाव से शारीरिक तंत्र खराब हो जाता है |

पारिवारिक विखराव

परिवार में माता पिता के बीच तलाक या लगातार होने वाले झगड़ो का बच्चो पर बुरा असर पड़ता है

जनर्ल ऑफ मेरिज एंड फॅमिली में छपी रिपोट के मुताबिक टूटे परिवारों से आने वाले

बच्चो को डिप्रेसन (Depression in childhood) का खतरा ज्यादा होता है |

कम खेल कूद

बच्चो के विकास में खेलकूद की जगह खास होती है

खेलकूद से दिमाग को बहुत कुछ सीखने को व विकसित होने को मिलता है बच्चो में होने वाली मानसिक बीमारीयो (Mental Disorder) के विशेषज्ञ पीटर ग्रे कहते है कम खेल से बच्चो में समस्यायों को सुलझाने कि क्षमता कम हो जाती है |

इलेक्ट्रॉनिक खेलो की लत

अमेरिकन जर्नल ऑफ इंडस्ट्रियल मेडिसन के मुताबिक वे बच्चे जो दिन में ज्यादातर कंप्यूटर में गेम खेलते है

मोबाइल लैपटॉप पर ज्यादा समय बिताते है उन्हें डिप्रेसन ( Depression Sign) का खतरा होता है

एंटीबायोटिक का इस्तेमाल से बच्चो को डिप्रेसन

मैकमास्टर यूनिवर्सिटी के रिसर्चरो ने चूहों पर एंटीबायोटिक का टेस्ट किया तो उन्होंने पाया की बो चूहे जल्दी ही बेचनी के शिकार हो गये व उनके दिमाग का वह हिस्सा प्रभाबित होता है जो भावनायों के लिये जिम्मेदार है |

मानवेन्द्र सिंह

मानवेन्द्र सिंह

मानवेंद्र सिंह सॉफ्ट प्रमोशन टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड में फिटनेस और हेल्थ ब्लॉगर हैं। उन्होंने 2006 में BHM स्नातक की डिग्री ली है। उन्हें स्वास्थ्य एवं विज्ञान अनुसंधान के क्षेत्र में लेखन का आनंद मिलता है।

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.