कैंसर क्या है : कैंसर बीमारी का नाम ही किसी व्यक्ति को भयभीत करने के लिये काफी है मौत का रूप बन चुके इस कैंसर को शुरूआती अवस्था में आसानी से ठीक किया जा सकता है कैंसर का शुरूआती अवस्था में इलाज ( होना पीड़ित के लिये बेहद आवश्यक होता है | कैंसर कई तरह का होता है और शरीर के विभिन्न हिस्सों में हो सकता है

इसके प्रकार लक्षण  तथा बचाव के उपाए हर तरह के प्रभाबित टिशु तथा मेटास्तेसिस के लिये अलग – अलग होते है अगर कर्क रोग  को शुरूआती अवस्था में पकड लिया जाये तो फिर इसका इलाज  करना सम्भव हो जाता है परन्तु चिकित्सा विज्ञान में आज भी कई प्रकार के कैंसर का इलाज नही ढूढ पाया है |

यह शरीर की एसी स्थिति है जिसमें लोगो की सेल बहुत असामान्य होती है और यह पूरे शरीर में फ़ैल सकता है, कई बार कुछ ट्युमरस की बजह से भी कैंसर होता है परन्तु हर ट्युमरस कर्क रोग का कारण नही होता है कैंसर के कई लक्षण  होते है जैसे आसामान्य रूप से खून निकलना शरीर में कई जगह सुजन, अचानक बजन का घटना, मलत्याग सही तरह ना होना आदि |

कैंसर रोग के प्रकार –

1 . कार्सिनोमा  –

यह कैंसर (Cancer) त्वचा पर या उन टिश्यूस में होता है जो शरीर के आंतरिक भागो पर होते है जैसे त्वचा फेफड़े कोलन पैकीयटिक, गर्भाशय का कैंसर, एपीथेलियल स्कबैमस तथा बसल सेल कार्सिनोमास, पपिलोमास तथा अडेनोमास |

कार्सिनोमा एक घातक ट्यूमर है इसकी उपस्थिति का स्थान मुख्य रूप से उन कोशिकाओं की प्रक्रति से निर्धारित होता है | जहाँ से यह होता है | उदाहरण के लिये यह एक स्क्वैमस सेल ट्यूमर या एडेनोकाकिनोमा हो सकता है जो सामान्यतः गर्भाशय ग्रीवा में होता है |

2 . सारकोमा कैंसर क्या है –

इस कैंसर (Cancer) की शुरुआत बोनस, कार्टिलेज, फैट मशपेसियों, रक्त की धमनियों या अन्य जोड़ने वाले या कनेकिटिब टिश्यु में होती है

हड्डी तथा नरम टिश्यु के कैंसर ओस्टियोकार्सोमा, साइनोवियल, सार्कोमा, लाइपोसार्कोमा, एनजीओंसाकोर्मा, रेब्ड़ोमायोसार्कोमा और फाइब्रोसार्कोमा है |

ओर पड़े – (स्किन कैंसर का घरेलु उपचार)

मानवेन्द्र सिंह

मानवेन्द्र सिंह

मानवेंद्र सिंह सॉफ्ट प्रमोशन टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड में फिटनेस और हेल्थ ब्लॉगर हैं। उन्होंने 2006 में BHM स्नातक की डिग्री ली है। उन्हें स्वास्थ्य एवं विज्ञान अनुसंधान के क्षेत्र में लेखन का आनंद मिलता है।

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.