हड्डियों का कैंसर, कारण व लक्षण – Bones Cancer In Hindi

0
183
Bones cancer

यह कैंसर हमारी बोन मैरो की रक्त बनाने वाली कोशिकाओं में होता है | जो बाद धीरे धीरे हमारी हड्डियों में फ़ैलने लगता है | इन सेल्स को हम माइक्रोस्कोप के द्वारा भी देख सकते है | और इसकी पहचान कर सकते है | हड्डियों में कैंसर तीन प्रकार का होता है |

  • ऑस्टियो सार्कोमा
  • कॉन्ड्रो सार्कोमा
  • इविंग सार्कोमा

अगर आपको इस कैंसर के शरुआती लक्षण के बारे में पता हो तो आप इसका उपचार समय रहते करवा सकते है | इस कैंसर के कारण व लक्षण किस प्रकार होते है |

हड्डियों में कैंसर होने के मुख्य कारण :

अधिक धुम्रपान करने से

अत्यधिक धुम्रपान को भी इस कैंसर की एक वजह माना गया है | जो व्यक्ति अधिक धुम्रपान का सेवन करते है , उनके शरीर में अधिक मात्रा में निकोटिन पहुच जाता है | जिसकी वजह से हमारे अस्थि मज्जा को बहुत नुकसान पहुचता है | साथ ही साथ धुम्रपान के सेवन से हमारे शरीर के साथ साथ हमारी हड्डियां भी कमजोर होने लगती है | जिसकी वजह से हमारे शरीर में हड्डियों का कैंसर की शुरुआत होने लगती है | वैसे तो अभी तक इस कैंसर की कोई मुख्य वजह का पता नही चल पाया है |

असंतुलित खानपान का सेवन करने से

बाज़ार में बिकने वाले जंक फ़ूड और फ़ास्ट फ़ूड व तली-भुनी चीजो के सेवन से हमारे शरीर में कार्बोहाइड्रेट व वसा और शर्करा की मात्रा अधिक होने लगती है | जिसकी वजह से हमारा शरीर मोटा तो हो जाता है| लेकिन इसके नियमित सेवन से हमारी हड्डियाँ कमजोर होने लगती है |

और हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक की क्षमता भी कम होने लगती है | जिसके दिन प्रतिदिन कम होने से हमारी हड्डियों में हड्डियों का कैंसर की शिकायत होने लगती है | गलत खानपान भी इस कैंसर की एक वजह मानी जा सकती है |

अधिक उम्र की वजह से

अगर आपकी उम्र 45 वर्ष से अधिक हो चुकी है तो आपको भी इस बीमारी का खतरा हो सकता है | क्योंकि इस उम्र में मनुष्य की हड्डियाँ कमजोर होने लगती है | जिसकी वजह से हमारे शरीर में दर्द की समस्या के साथ साथ कैंसर की समस्या भी होने लगती है |

हड्डियों में कैंसर के शुरूआती लक्षण :

हड्डियों में दर्द का होना

हड्डियों के कैंसर होने से हमारी हड्डियों में दर्द की समस्या शुरू हो जाती है | हड्डियों का कैंसर अधिकतर हमारे शरीर की लंबी हड्डियों में ही होता है , जैसे हमारी बांह व टांगों की हड्डियों में |इसलिए हमारे शरीर के इन हिस्सों में दर्द होने की अधिक संभावना होती है | अगर आपको प्रतिदिन दर्द होता है , तो आपको अपने शरीर की जाँच करवानी चाहिये |

सूजन व नरम होना

अधिकतर हड्डियों के कैंसर में ट्यूमर के आस पास वाली जगहों पर दर्द के साथ साथ सूजन भी आ जाती है | जिसकी वजह से वह हिस्सा नरम पड़ने लगता है | अगर आपको भी इसी प्रकार समस्या हो रही है| तो आज ही आपको अपने शरीर की जाँच करवानी चाहिये |

जोड़ों में समस्या

अगर आपको अपने जोड़ों में में रोजाना बहुत दर्द का सामना करना पड़ रहा है और आपको अपने जोड़ों को मोड़ने व चलने में दिक्कत हो रही है , तो ये भी कैंसर के लक्षण में ही आता है| हड्डियों में कैंसर जैसी बीमारी की शुरुआत दर्द से ही होती है | अगर आप भी इस परेशानी से जूझ रहे है तो आज ही किसी अच्छे डॉक्टर से अपना चेकअप करवाये |

पेशाब करने में दिक्कत

हड्डियों में कैंसर के कारण हमारी आंत और मूत्राशय बहुत प्रभावित होते हैं | वैसे तो पेशाब में दिक्कत कई वजह से होने लगती है, लेकिन हड्डी के कैंसर में ये समस्या 60 साल की उम्र पार करने के बाद होती है|  हमको पेशाब करने में दिक्कत शुरू होने लगती है |

जिसकी वजह से हमको हड्डियों में कैंसर होने का खतरा होता है | क्योंकि इस उम्र में हमारी हड्डियों की मजबूती कम हो कर इसमें कई प्रकार की समस्या होने लगती है | अगर आप भी इस परेशानी से जूझन पड़ रहा है तो आज ही किसी अच्छे डॉक्टर से अपना चेकअप करवाये |

थकान और बुखार

महिलाओं में हड्डियों में कैंसर बहुत जल्दी होने लगता है | महिलाओ को इस समस्या के होने पर हड्डियों में हमेशा तेज दर्द रहता है और महिलाओ को इसकी वजह से पीरियड में खून भी अधिक निकलता है | जिसकी वजह से पीड़ित  महिलायें हमेशा बीमार व कमजोर रहने लगती है | इसीलिये महिलाओं को हमेशा अपनी सेहत का सही ढंग से ख्याल रखना चाहिये | जिससे वो इस समस्या से दूर रह सके |

अगर आपके शरीर में भी इसी प्रकार के कोई लक्षण दिखाई देते है, तो आपको तुरंत ही डॉक्टर से सलाह लेकर अपना इलाज कराना चाहिये |

और पढ़े -(स्किन कैंसर व इसके बचाव – Skin Cancer Treatment In Hindi)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.