बोन मैरो ट्रांसप्लांट या अस्थि मज्जा प्रत्यारोपण क्या है और किस हॉस्पिटल होता है

1
66
बोन मैरो ट्रांसप्लांट

बोन मैरो ट्रांसप्लांट को स्टेम सेल ट्रांसप्लांट के नाम से भी जाना जाता है। बोन मैरो ट्रांसप्लांट इलाज की एक  प्रक्रिया है। इसके  तहत मरीज़ के खराब हो चुके बोन मैरो को किसी अन्य व्यक्ति या मरीज़ के ही  स्वस्थ बोन मैरो से बदल दिया जाता है। जब कैंसर के इलाज के लिए अधिक मात्रा मेंकी मोथेरेपी करने की आवश्यकता होती है, तो उस स्तिथि में भी बोन मैरो ट्रांसप्लांट किया जाता है। 

बोन मैरो क्या है?

बोन मैरो एक स्पंजी ऊतक (टिस्यू) है जो  कि हमारे शरीर की हड्डियों के बीच में  मौजूद रहता है। बोन मैरो ही हमारे शरीर में रक्त कोशिकाओं (ब्लड सेल्स) का निर्माण करता है। 

 बोन मैरो ट्रांसप्लांट के प्रकार

बोन मैरो ट्रांसप्लांट निम्नलिखित आधार पर बांटा जा सकता है। 

• डोनर के आधार पर

– अगर बोन मैरो मरीज़ के ही शरीर से लिया गया है तो इसे ऑटोलॉगस ट्रांसप्लांट कहा जाता है। इस प्रकार का बोन मैरो ट्रान्सप्लांट सामान्यतः उस स्तिथि में किया जाता है, जब कैंसर के इलाज के लिए अधिक मात्रा में कीमोथेरेपी देने की आवश्यकता होती है। यह ट्रांसप्लांट इस लिए किया जाता है क्यों कि कीमोथेरेपी के कारण बड़ी मात्रा में ब्लड सेल्स को नुकसान होता है। 

– अगर बोन मैरो मरीज़ के शरीर से न ले कर किसी अन्य व्यक्ति से लिया गया है तो इसे एलोजेनिक ट्रांसप्लांट कहा जाता है। 

एलोजेनिक ट्रान्सप्लांट को पुनः निम्नलिखित भाग में बांटा गया है।

– मैच्ड सिबलिंग डोनर ट्रांसप्लांट – इसमें ट्रांसप्लांट के लिए बोन मैरो मरीज़ के भाई या बहन से लिया जाता है। यानी इसमें डोनर मरीज़ का भाई या बहन होते है।

– मैच्ड अनरिलेटेड  डोनर ट्रांसप्लांट – इसमें डोनर परिवार के बाहर का व्यक्ति होता है। 

– हेप्लॉयडेंटिकल ट्रांसप्लांट – जब किसी से भी मरीज़ का बोन मैरो नही मिल पाता है, तो इस स्तिथि में परिवार का कोई सदस्य जैसे मां, पिता या रिश्ते के भाई/बहन इत्यादि का बोन मैरो ट्रांसप्लांट के लिए उपयोग किया जाता है।

– लिम्फोसाइट डिप्लेटेड हेप्लॉयडेंटिकल स्टेम सेल ट्रांसप्लांट – इस प्रक्रिया के तहत किसी खास कोशिकाओं को ही मरीज़ के शरीर में डाला जाता है। 

– कॉर्ड ब्लड ट्रांसप्लांट – इस प्रक्रिया के तहत बच्चे के जन्म के समय सुरक्षित किए गए कॉर्ड ब्लड से स्टेम सेल जमा कर के मरीज़ को डाला जाता है। 

बोन मैरो को जमा करने का तरीका

– पेरिफेरल स्टेम सेल कलेक्शन – इस प्रक्रिया में स्टेम सेल डोनर के रक्त से जमा किया जाता है।

– बोन मैरो हार्वेस्ट – इसमें स्टेम सेल्स सीधे डोनर के बोन मैरो से ही निकाला जाता है।

• बोन मैरो ट्रांसप्लांट किस स्तिथि में होता है?

निम्नलिखित स्तिथि उतपन्न होने पर बोन मैरो ट्रांसप्लांट या ऑटोलॉगस ट्रांसप्लांट किया जाता है। 

• न्यूरोब्लास्टोमा

• रिप्लेसड इविंग्स सार्कोमा

• रिप्लेसड लिम्फोमस

• मल्टीपल मायलोमा

• रिप्लेसड जर्म सेल ट्यूमर

• ऑटोइम्यून डिसऑर्डर

• मेडुलोब्लास्टोमा

 निम्नलिखित स्तिथि में एलोजेनिक ट्रांसप्लांट किया जाता है।

• थैलेसीमिया

सिकल सेल एनीमिया

• सीवियर अप्लास्टिक  एनीमिया

• ल्यूकेमिया

• इनहेरिटेड मेटाबॉलिक डिसऑर्डर

• लिम्फोमा

• प्राइमरी इम्युनोडिफिशिएंसी डिसऑर्डर

बच्चों में बोन मैरो ट्रांसप्लांट के लिए मेदांता में सुविधा

मेदांता कैंसर संस्थान की शाखा द डिपार्टमेंट ऑफ पीडियाट्रिक हेमेटोलॉजी, ऑन्कोलॉजी एंड बोन मैरो,  ट्रांसप्लांट के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ संस्थानों में से एक है। इस विभाग में बच्चों के बोन मैरो ट्रांसप्लांट के लिए अनुभवी एवं विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम के साथ – साथ प्रशिक्षित नर्स एवं सहायक कर्मियों की बेहतरीन टीम हैं। कैंसर, हेमेटोलॉजिकल डिजीज, लैबोरेटरी हेमेटोलॉजिकल सर्विस तथा ब्लड ट्रांसफ्यूजन के क्षेत्र में भी यह संस्थान देश के सर्वश्रेष्ठ संस्थाओं में शामिल है। 

भारत में प्रति वर्ष 50 हज़ार से अधिक बोन मैरो ट्रांसप्लांट की आवश्यकता होती है। सभी आधुनिक तकनीक से लैस मेदांता के बोन मैरो ट्रांसप्लांट विभाग के पास प्रत्येक साल 300 से 400 बोन मैरो ट्रांसप्लांट करने की क्षमता है। हम मरीज़ को बेहतर से बेहतर इलाज उपलब्ध कराते हैं। हम मरीज़ की साफ सफाई एवं सुरक्षा का पूरा ख्याल रखते हैं। मेदांता का ट्रान्सप्लांट विभाग काफी संख्या में इस तरह के सफल ट्रांसप्लांट कर चुका है। अधिक खतरे वाले ट्रान्सप्लांट में भी हमारा सफलता दर काफी अच्छा रहा है। मेदांता, मरीज़ों की सुरक्षा और इलाज की गुणवत्ता का ध्यान रखने वाली अंतराष्ट्रीय संस्था JCI  (जेसीआई) द्वारा मान्यता प्राप्त हैं। 

• मेदांता में बोन मैरो ट्रांसप्लांट की सुविधा

मेदांता में बोन मैरो ट्रांसप्लांट विभाग अस्पताल के 14वें तल्ले पर स्थित है। अस्पताल का यह पूरा हिस्सा पूरी तरह से बोन मैरो ट्रांसप्लांट के मरीज़ों को ही समर्पित है। यहां मौजूद सभी कमरों में साफ हवा की व्यवस्था है। कमरे में हवा को साफ करने के लिए हेपा तकनीक की व्यवस्था है ताकि इंफेक्शन से मरीज़ को बचाया जा सके। प्रत्येक कमरे में प्रत्येक मरीज़ के साथ एक अन्य व्यक्ति के ठहरने की व्यवस्था है। कमरे में सूर्य की प्रकाश आने के तथा उचित रौशनी के लिए खिड़की की व्यवस्था की गई है। इस विभाग के इर्द गिर्द ऐसा कोई अन्य काम नही किया जाता है, जिससे कि यहां इंफेक्शन का खतरा हो। 

इसके अलावा मेदांता अस्पताल में निम्नलिखित सुविधाएं भी मौजूद है – 

• समर्पित नर्सिंग स्टाफ

मेदांता अस्पताल में एक मरीज़ पर एक नर्सिंग स्टाफ की व्यवस्था है। प्रत्येक नर्सिंग पूरी तरह प्रशिक्षित एवं अनुभवी हैं। 

• अत्याधुनिक ब्लड बैंक

ट्रांसप्लांट वाले मरीज़ को बड़े स्तर पर खून की आवश्यकता होती है। इस लिए उनकी ज़रूरतों को ध्यान में रखते हुए यहां अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस ब्लड बैंक की व्यवस्था है। यह ब्लड बैंक सभी मरीज़ों के खून से सम्बंधित ज़रूरतों को पूरा करने में सक्षम है। यह 24×7 सेवा के लिए तत्पर रहता है। इसके  अलावा अनुभवी ब्लड बैंक अधिकारियों द्वारा पेरिफेरल ब्लड स्टेम सेल हार्वेस्टिंग की भी सुविधा उपलब्ध है। 

• एक ही छत के नीचे सभी प्रकार के जांच की सुविधा

मेदांता अस्पताल में सभी तरह कर जांच के लिए अत्याधुनिक तकनीक से लैस निम्नलिखित जांच लैब की  व्यवस्था है।

• हेमेटोलॉजी लैब 

• बायोकेमिस्ट्री लैब 

• माइक्रोबायोलॉजी लैब

• सेल्स के क्रायोप्रिजर्वेशन की सुविधा

• बोन मैरो ट्रांसप्लांट के बाद के लिए स्पेशल ओपीडी की व्यवस्था

• द डिपार्टमेंट ऑफ पीडियाट्रिक हेमेटोलॉजी, ऑन्कोलॉजी एंड बोन मैरो ट्रांसप्लांट  विभाग सौ से भी अधिक ट्रांसप्लांट, खास कर कम उम्र के मरीज़ों का कर चुका है। इसके अंतर्गत मैच्ड सिबलिंग, मैच्ड अनरिलेटेड डोनर ट्रांसप्लांट तरह के ट्रांसप्लांट किए जा चुके हैं। इसमें घरेलू और विदेशी डोनर, कॉर्ड ब्लड ट्रांसप्लांट हेप्लॉयडेंटिकल ट्रांसप्लांट शामिल है।

• मेदांता की बोन मैरो ट्रांसप्लांट विभाग ने नए तकनीक पर काम करते हुए कुछ ऐसे ट्रान्सप्लांट किए है, जो कि आज भी आमतौर से अन्य जगह उपलब्ध नही है। जैसे –

• रिड्यूसड इंटेंसिटी स्टेम सेल ट्रांसप्लांट (RIST)

• बिना कैसंर वाली स्तिथि में हेप्लॉयडेंटिकल बोन मैरो ट्रांसप्लांट

• न्यूरोब्लास्टोमा टेंडन ट्रान्सप्लांट 

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.