पतंजलि नारी सुधा सिरप आयुर्वेदिक जडीबुटी के मिश्रण के द्वारा बनाई जाने वाली एक दवा है | जो महिलायों की कई प्रकार की समस्या का समाधान बहुत ही आसानी से कर देती है | यह दवा मुख्य रूप से महिलाओं के लिए पीरियड्स के दिनों में काफी कारगर साबित होती है | कई महिलायों को पीरियड्स के समय अधिक रक्तस्राव होने की वजह से कमजोरी व पेट दर्द जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है |

यदि आप को भी अपने पीरियड्स के समय में कुछ इसी प्रकार की समस्या का सामना कर रही है | तो इस लेख को पूरा जरुर पढ़े | क्योंकि यह लेख फिर आपके लिए ही है, इस लेख के द्वारा आप पीरियड्स के समय हो रही दिक्कत को आसानी से घर बैठे खत्म कर सकती है | तो आइये जानते है पतंजलि नारी सुधा सिरप के बारे में विस्तार से – 

पतंजलि नारी सुधा एक आयुर्वेदिक दवा है | जो महिलाओं की माहवारी में सफेद स्राव, अधिक स्राव, पीठ दर्द, पैर और बाहों में दर्द, एनीमिया, मांसपेशियों की ऐंठन व थकान जैसी समस्या को बहुत ही आसानी से खत्म कर देती है | इस दवा के सेवन से महिलाओं में एंटीऑक्सीडेंट, रोगाणुरोधी, एनाल्जेसिक, एंटीमिक्राबियल व कई खनिज तत्व की कमी पूरी हो जाती है जिससे यह सभी समस्यायों का इलाज बहुत ही आसानी से कर देता है | तो आइये दोस्तों जानते है इस दवा को किस प्रकार व किन किन जडीबुटी के द्वारा बनाया जाता है…

पतंजलि नारी सुधा सिरप में मिलाई जाने वाली औषधियाँ :

पतंजलि नारी सुधा सिरप को कई प्रकार की असरदार जडीबुटी के मिश्रण से बनाया जाता है | इस सिरप में निम्न जड़ी बूटियाँ मिलाई जाती है :

  • रक्त चन्दन |
  • मोचरस |
  • अशोक की छाल |
  • धातकी |
  • शतावर |
  • अश्वगंधा |
  • नागाकेशर |
  • सोंठ व जटामांसी |
  • दारू हल्दी |
  • पत्रांग व शहद |

इन सभी गुणकारी जडीबुटी को मिलाकर एक काढा बनाया जाता है, फिर इस काढ़े को कुछ दिनों तक ढककर साफ़ जगह पर रख दिया जाता है | फिर इसको बोतल में भरकर आप लोगो के बीच लाया जाता है, जिसके सेवन के बाद आपकी रक्त से जुडी सभी समस्या बहुत ही आसानी से खत्म होने लगती है | अब आइये जानते है पतंजलि नारी सुधा सिरप के लाभ के बारे में –

इस सिरप को प्रयोग करने से रोगों में होने वाले लाभ –

पीरियड्स के समय ताकत प्रदान करती है –

यदि आप पीरियड्स के समय अधिक रक्त स्त्राव के कारण आपको कमजोरी व अधिक थकावट महसूस होती है | जिसकी वजह से आपकी दिनचर्या पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है | तो आप इस दवा के द्वारा अपनी इस परेशानी को जड़ से खत्म कर सकती है | इस दवा के सेवन से आपको पीरियड्स के समय ताकत के साथ साथ आपके हार्मोन्स संतुलन बनाये रखने का भी कार्य भी करती है | यदि आप PCODPCOS जैसी बीमारी की शिकार है तब भी आप इस दवा के द्वारा अपनी इस परेशानी को जड़ से खत्म कर सकते है |

सफेद स्राव को रोकती है –

सफेद स्राव यानि ल्यूकोरिया की समस्या में आपके योनि माध्यम से सफेद और चिपचिपा स्त्राव होने लगता है | यह समस्या अधिकतर पीरियड्स के बाद व पहले होती है | जिसकी वजह से आपको कमजोरी व थकान जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की समस्या से परेशान है | तो आपको इस रोग से छुटकारा पाने के लिए पतंजलि की नारी सुधा सिरप का सेवन करना चाहिये | इस दवा के सववान से आपके शरीर में मौजूदहार्मोन्स नियमित रूप से कार्य करने लगते है | और आपकी सफेद स्राव जैसी समस्या खत्म हो जाती है |

एनीमिया की बीमारी ठीक करता है –

एनीमिया यानि खून की कमी यह रोग शरीर में जब जन्म लेता है जब आपके शरीर में हीमोग्लोबिन क कमी आ जाती है | हीमोग्लोबिन शरीर के लिए ऑक्सीजन आबद्ध करने का कार्य करती है | यदि शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाये तो आपको पीलिया, कमज़ोरी, सिरदर्द व सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है |

यदि आप भी इस प्रकार किसी समस्या के शिकार है | तो आपको पतंजलि नारी सुधा का सेवन करना चाहिये | जिससे आपको इस इस प्रकार की समस्या से छुटकारा मिल सके | यह दवा आपके शरीर में रक्त निर्माण का कार्य करती है | जिससे आपकी एनीमिया जैसी बीमारी को खत्म करने में मदद मिलती है |

असामान्य मासिक धर्म से राहत दिलाती है –

कई महिलायों को असामान्य मासिक धर्म की परेशानी के कारण कई प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ता है | जैसे उनकी दिनचर्या में एकाएक बदलाव, कमजोरी व गुप्तांग से जुड़े रोग की समस्या होने लगती है | यह समस्या केवल असामान्य हार्मोन्स के कारण ही जन्म लेती है |

यदि आप भी असामान्य मासिक धर्म के कारण परेशान है तो आपको पतंजलि नारी सुधा सिरप का सेवन करना चाहिये | यह दवा आपके शरीर में हार्मोन्स की असामान्य गति व गर्भाशय से जुडी समस्या को जल्द से जल्द ठीक कर देती है | जिससे आपको कभी भी असामान्य मासिक धर्म की परेशानी का सामना नही करना पड़ता है |

इसका सेवन तरीका –

पतंजलि नारी सुधा सिरप का सेवन आप बहुत ही आसानी व सरलता से कर सकती है | आपको इस दवा का सेवन गुनगुने पानी में डालकर व दिन में दो बार स्पून के द्वारा भी कर सकती है | आपको इस दवा का सेवन भोजन के बाद ही करना चाहिये |

इसके प्रयोग से होने वाले नुकसान –

पतंजलि नारी सुधा सिरप के द्वारा आपके शरीर को किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही होता है | लेकन आपको इस दवा की निश्चित मात्रा का ही सेवन करना चाहिये | यदि आप इस लेख से जुड़े किसी सवाल को पूछना चाहते है | तो हमें हमारे कमेन्ट बॉक्स में जरुर बताये |

और पढ़े - महिलायों में क्यों होती है पीसीओडी की परेशानी पीसीओडी के कारण लक्षण व इलाज – PCOD Treatment In Hindi
मानवेन्द्र सिंह

मानवेन्द्र सिंह

मानवेंद्र सिंह सॉफ्ट प्रमोशन टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड में फिटनेस और हेल्थ ब्लॉगर हैं। उन्होंने 2006 में BHM स्नातक की डिग्री ली है। उन्हें स्वास्थ्य एवं विज्ञान अनुसंधान के क्षेत्र में लेखन का आनंद मिलता है।

Join the Conversation

3 Comments

  1. हमारी पत्नी उम्र 30वर्ष को सफेद पानी (बदबुदार) की समस्या 16 वर्ष उम्र से ही है दवा करके परेशान है अब दवा बंद है
    वर्तमान समस्या -सफेद स्राव, खमरदर्द ,कमजोरी , चिड़चिड़ापन आदि
    कृपया सही उपचार बतायें

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.