Patanjali Liv Amrit Syrup

पतंजलि लिव अमृत सिरप लीवर रोग के लिए एक आयुर्वेदिक दवा है पतंजलि   का नाम आते ही हमारे मन में जडीबुटी द्वारा निर्मित दवाओं के बारे सोचने लगते है | दोस्तों आज आपको हम पतंजलि द्वारा निर्मित एक गुणकारी दवा के बारे में बताने जा रहे है | पतंजलि लिव अमृत सिरप, यह सिरप कई प्रकार की गुणकारी जडीबुटी को मिलाकर बनाया जाता है | आज के इस भागदौड़ भरी जिन्दगी में आप अपने खानपान के साथ साथ अपने शरीर पर भी कम ध्यान दे पाते है |

जिसकी वजह से आप कई प्रकार की बीमारियों व शरीरिक कमजोरी के गिरफ्त में आ जाते है | यह सिरप आपके शरीर में होने वाली बिमारियों के लिए बहुत ही कारगर दवा साबित होती है | यह दवा संक्रमण, पीलिया, एनीमिया, लिवर रोग व ह्रदय से जुडी परेशानियों में बहुत ही आरामदायक होती है | यदि आप भी किसी इन सब बिमारियों में से किसी बीमारी से परेशान है | तो यह लेख आपके लिये ही है | इस लेख के द्वारा आप अपनी कई प्रकार की बिमारियों का इलाज बहुत ही आसानी से करवा सकते है |

पतंजलि लिव अमृत सिरप क्या है ?

पतंजलि लिव अमृत सिरप को पतंजलि आयुर्वेद द्वारा बनाया जाता है | इस दवा के सेवन से शरीर को कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, जिंक, कैरोटीन, प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन ई और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, फोलेट, सोडियम, संतृप्त वसा, फाइबर के साथ साथ एंटीऑक्सीडेंट व एंटीबैक्टीरियल गुण हमारे शरीर को स्वस्थ बनाने का कार्य करते है | इस औषधि को कई प्रसिद्ध व असरदार जडीबुटी के द्वारा बनाया जाता है | जो शरीर को स्वस्थ बनाने का कार्य करती है | दोस्तों आइये जानते है | इस दवा में मिलाई जाने वाली जडीबुटी के बारे में |

सिरप में मिलाई जाने वाली औषधियाँ :

  • पुनर्नवा |
  • अर्जुन |
  • भृंगराज |
  • मकोय |
  • भूमिआवंला |
  • त्रिफला |
  • सर्पुन्खा |
  • गिलोय |
  • मुलेठी |
  • कालमेघ |
  • दारू हल्दी |
  • कुटकी |

जैसी प्राकृतिक जडीबुटी के द्वारा इस दवा को तैयार किया जाता है | जिस वजह से यह दवा आपके शरीर को स्वस्थ बनाने में लाभकारी साबित होती है | दोस्तों आइये जानते है | इस दवा के द्वारा होने वाले फायदों के बारे में |

इस सिरप के प्रयोग से रोगों में लाभ –

लिवर को स्वस्थ बनती है –

लिवर मनुष्य के शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है | लिवर आपके शरीर में उर्जा प्रदान करने का कार्य करता है | लेकिन आज कल बदलते जनजीवन व खानपान के कारण आप अपने लिवर को दिन प्रतिदिन कमजोर बनाते चले जा रहे है | जिस वजह से आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है | ( और पढ़े – फैटी लीवर के बारे में )

आपको यदि इस प्रकार किसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है | तो आपको पतंजलि लिव अमृत सिरप का सेवन करना चाहिये | इस दवा में पाए जाने वाला एंटीहेपाटॉक्सिक तत्व हमारे लिवर को स्वस्थ बनाने का कार्य करता है | लिवर रोग आपको इस दवा का सेवन खाली पेट सुबह शाम करना चाहिये |

एनीमिया की समस्या ठीक करती है –

एनीमिया जैसी परेशानी शरीर में रक्त की कमी के कारण जन्म लेती है | यह समस्या अधिकतर शरीर को संतुलित भोजन न मिलने की वजह से ही आपको अपनी गिरफ्त में लेती है | यदि इस बीमारी का सही समय पर उपचार न कराया जाये तो आपको इस बीमारी के कई गंभीर परिणाम देखने को मिलते है |

यदि आप भी कुछ इसी प्रकार कि समस्या से परेशान है | तो आपको पतंजलि लिव अमृत सिरप का सेवन करना चाहिये | यह दवा आपके हर्दय को स्वस्थ बनाने का कार्य करती है | जिससे आपके शरीर में रक्त की समस्या पूरी तरह से खत्म हो जाती है | एनीमिया होने पर आपको इस दवा का सेवन भोजन के बाद सुबह शाम करना चाहिये |

भूख न लगने की परेशानी ठीक करती है –

आज के इस वयस्त जीवन में आप अपनी दिनचर्या में इस तरह वयस्त रहते है | जिसकी वजह से अपने शरीर पर अधिक ध्यान नही दे पाते है | यदि आप अपनी दिनचर्या के कारण अपनी भूख को मारते रहते है | तो इसकी वजह से आपको भूख न लगने जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है | और आप दिन प्रतिदिन कमजोर होते जाते है | यदि आप भी कुछ इसी समस्या से परेशान है | तो आपको अपनी भूख बढ़ाने के लिए पतंजलि लिव अमृत सिरप का सेवन करना चाहिये | आपको इस दवा का सेवन भूख की समस्या में खाली पेट करना चाहिये |

पीलिया को खत्म करती है –

पीलिया जैसी बीमारी शरीर में बिलीरुबिन की मात्रा अधिक होने से होती है | लिवर में लाल रक्त कोशिकाएं टूटने के कारण शरीर में बिलीरुबिन की मात्रा अधिक होने लगती है | और आपका शरीर पीला पड़ने लगता है | यदि आप भी पीलिया जैसी समस्या से परेशान है |

और इस समस्या का इलाज के बारे में सोच रहे है, तो आपको पतंजलि लिव अमृत सिरप का सेवन करना चाहिये | यह दवा आपके लीवर में जमा गंदगी को जड़ से खत्म करके बिलीरुबिन कि मात्रा को पूरी तरह खत्म कर देती है | पीलिया की समस्या में आपको इस दवा का सेवन खाली पेट सुबह शाम करना चाहिये |

हेपेटाइटिस की समस्या को खत्म करती है –

हेपेटाइटिस की समस्या संक्रमण के द्वारा ही शरीर में जन्म लेती है | हेपेटाइटिस चार प्रकार का होता है | इसके सभी प्रकार आपके लीवर को कमजोर बनाने का कार्य करते है | यदि आप भी हेपेटाइटिस जैसी समस्या से ग्रस्त है, तो आपको पतंजलि का लिव अमृत सिरप का सेवन करना चाहिये | इसमें मौजूदतत्व आपके लिवर को स्वस्थ बनाने का कार्य करते है | हेपेटाइटिस होने पर आपको इस दवा का सेवन भोजन के बाद सुबह शाम करना चाहिये |

इस सिरप को सेवन करने का तरीका –

पतंजलि लिव अमृत सिरप का सेवन महिला व पुरुष दोनों ही कर सकते है | इस दवा का सेवन पांच साल से अधिक उम्र के बच्चे भी कर सकते है | आपको इस दवा का सेवन दिन में दो बार करना चाहिये | आपको इस दवा का सेवन अपनी बीमारी के मुताबिक खाली पेट व भोजन के बाद करना चाहिये |

पतंजलि सिरप के शरीर पर प्रभाव –

पतंजलि लिव अमृत सिरप के सेवन से आपके शरीर को किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही होता है | यदि आप इस दवा का अधिक मात्रा में सेवन करते है | तो आपको इस दवा के द्वारा चक्कर, उल्टी व दस्त जैसी परेशानी का सामना करना पड़ता है | यदि आप इस दवा से जुडी किसी समस्या के बारे में पूछना चाहते है | तो आप हमारे कमेन्ट बॉक्स में हमें जरुर बताये |

मानवेन्द्र सिंह

मानवेन्द्र सिंह

मानवेंद्र सिंह सॉफ्ट प्रमोशन टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड में फिटनेस और हेल्थ ब्लॉगर हैं। उन्होंने 2006 में BHM स्नातक की डिग्री ली है। उन्हें स्वास्थ्य एवं विज्ञान अनुसंधान के क्षेत्र में लेखन का आनंद मिलता है।

Join the Conversation

8 Comments

  1. Sir mujhe 2-3baar piliya ho chuka Hai
    Aur mujhe lagta hai ki mera liver bhi kamjor Hai
    Abhi bhi mujhe thoda piliya ki shikayat hai
    To kya Liv Amrit in samasyaon ko jad se khatam kar sakta hai.
    In problem ki vajha se main preshan hooan plz
    Mujhe reply karen

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.