पतंजलि च्यवनप्राश के चमत्कारी फायदे – Benefits of Patanjali Chyawanprash In Hindi

0
683
पतंजलि च्यवनप्राश के फायदे

पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन करके मैंने पाया कि इसके सेवन के बाद मेरे शरीर से कई प्रकार की समस्या का इलाज कुछ ही दिनों में हो गया जैस कि मेरे शरीर दर्द कमजोरी व बार बार बुखार की समस्या से मुझे हमेशा के लिये छुटकारा मिल गया | क्योंकि इसमें पाये जाने वाले गुणकारी तत्व आवंला, दशमूल, मोठा, दालचीनी, अडूसा, काकनासा, तिल का तेल, नीलोत्पल, शुद्ध शहद, इलायची और करकटश्रीन्ग्जी जैसे और भी कई गुणकारी तत्व हमारे शरीर की कई समस्याओं का इलाज बहुत जल्दी करते है |

पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन किसी भी उम्र का व्यक्ति कर सकता है | मैंने पतंजलि च्यवनप्राश को खरीद सुबह सुबह इसका सेवन शुरू किया तो मैंने अपने शरीर में पाया की मेरे शरीर की समस्या बहुत जल्दी दूर होने लगी | और कुछ ही दिनों में मैंने पाया की मेरा शरीर स्वस्थ हो गया | इसीलिये आज मै आपको पतंजलि च्यवनप्राश के सेवन से होने वाले फायदे के बारे में आपको जानकारी देने जा रहा हूँ |

पतंजलि च्यवनप्राश के गुणकारी व अचूक फायेदे :-

किसी भी उम्र के व्यक्ति की प्रतिरक्षा क्षमता बड़ता है

हम किसी भी उम्र में पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन करके हम अपने शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बड़ा सकते है | हमें अपने बच्चो को इसका सेवन जरुर करवाना चाहिये | इसके सेवन से बच्चो को किसी भी प्रकार की कोई भी बीमारी की समस्या नही होती है | क्योंकिइसके सेवन से शरीर में प्रोटीन , वसा, कैल्शियम, फॉस्फोरस, लौह, निकोटिनिक एसिड, गैलिक एसिड, टैनिक एसिड, ग्लूकोज, अलब्यूमिन व एंटी आक्सीडेंट की कमी को पूरी हो जाती है | जिससे हमारा शरीर की भी रोग से ग्रस्त नही होता है |

यौन संबंधी परेशानियों से निजात मिलती है

अगर आप किसी गुप्त रोग से परेशान है | और बिना डॉक्टर की मदद लिये बिना इसका इलाज करना चाहते है | तो आपको पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन नियमित रूप से करने पर

  • इरेक्टाइल डिस्फंक्शन |
  • शीघ्रपतन की समस्या |
  • पीरियड्स के दौरान अत्यधिक ब्लीडिंग |
  • स्वप्नदोष की समस्या

जैसी समस्या का उपचार केवल घर पर ही कर सकते है | क्योंकिइसमें पाये जाने वाले दालचीनी की वजह से सोडियम, फास्फोरस, व नियासिन जैसे कई गुणकारी तत्वों की कमी नही हो पाती है | और हमारी यौन संबंधी समस्यों का उपचार घर बैठे ही हो जाता है | आपको इसका सेवन करने के बाद आपको कुछ समय तक पानी का सेवन नही करना चाहिये |

तनाव सम्बंधी सभी समस्याओं को दूर करता है

पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन करने से हमारे मस्तिष्क पर इसका अच्छा प्रभाव पड़ता है | इसके सेवन से हमारा दिमाग काफी तेजी से काम करता है | क्योंकि ये हमारे रक्त में आक्सीज़न की मात्रा को बेहतर बनता है | जिसके कारण ही हमारे मस्तिष्क को भरपूर मात्रा में आक्सीज़न मिल पाता है | और हमारे शरीर को तनाव सम्बंधी कोई भी समस्या नही हो पाती है | आपको अपने बच्चे को शुरुआत से ही इसका सेवन कराना चाहिये | जिससे बच्चे का मस्तिष्क के साथ साथ याददाश्त भी काफी तेज होती है |

गर्भावस्था के समय गर्भवती महिला के लिये फायदेमंद साबित होता है

गर्भवती महिला को पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन बहुत जरुरी होता है | क्योंकिकई बार आर्थिक समस्या के कारण महिलाये गर्भावस्था में अपने सेहत पर ध्यान नही दे पाती है | तो उन महिलायों को अपने शरीर में जरुरी तत्वों की मात्रा को बनाये रखने के लिये पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन करना चाहिये |

जिससे गर्भावस्था के समय महिला अपना व अपने बच्चे को स्वस्थ रख सके | इसके सेवन से गर्भवती महिला के शरीर में मैग्नीशियम,मेंगनीस,कोलिन,फोलेट, प्रोटीन , वसा, कैल्शियम, फॉस्फोरस, लौह, विटामिन्स, मिनिरल व खनिजों की पूर्ति हो जाती है | जिसके कारण महिला व बच्चा दोनों स्वस्थ रहते है |

पतंजलि च्यवनप्राश के कुछ और फायेदे

  • इसके सेवन से हम अपने चहरे की दमक को सुधारा सकते है |
  • च्यवनप्राश के नियमित सेवन से ये हमारे बालों को भी पोषण प्रदान करके उसको मजबूत व घना बनाता है |
  • ये हमारे खून में मौजूदअशुद्धियों को हटाकर हमारे रक्त संचार को ठीक बनाता है |
  • पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन से हमारे शरीर की ताकत को बढ़ाया जा सकता है |
  • कैंसर जैसी बीमारी होने का खतरा कम रहता है |
  • हमारे ह्रदय सम्बंधी सभी समस्यों को जल्द दूर करता है |
  •  पतंजलि च्यवनप्राश के सेवन से महिलायों की सभी गुट समस्यों का भी उपचार हो जाता है |
  • डायबिटीज के मरीजो को इसका सेवन नही करना चाहिये | क्योंकिइसके सेवन से उनके शुगर लेवल में समस्या आ सकती है |

पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन किस प्रकार करे

आपको अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिये इसका सेवन दूध में मिलाकर करना चाहिये | जिससे आपके शरीर को बहुत जल्दी असर देखने को मिलता है | आपको च्यवनप्राश का सेवन वैसे तो कई प्रकार से कर सकते है | खाली पेट इसका सेवन करने से भी इसका असर काफी तेजी से देखने को मिलता है | क्योंकिकई ऋषि मुनियों ने भी कई औषधि के मिश्रण को च्यवन के नाम रखा गया था | जिसको आज के समय में च्यवनप्राश कहा जाता है |

अगर आप भी अपने शरीर को पूर्णरूप से स्वस्थ रखना चाहते है | तो आपको पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन नियमित तौर पर करना चाहिये | इसके सेवन से आप जीवन को लम्बे समय तक जी सकते है |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here