Anorexia

भूख न लगने की बीमारी : दोस्तों अरुचि रोग को एनोरेक्सिया भी कहते है इस रोग में रोगी को भूख न लगने का एहसास होता है | जिससे व्यक्ति के शरीर में कमजोरी आती है | और उसकी कार्यक्षमता भी कम हो जाती है | इस बीमारी का एक और भी नाम है जिसे अग्रिमांद कहते है हम आपको इसके बारे में विस्तार से परिचय कराते है | दोस्तों भूख न लगने को मेडिकल लैंग्वेज में एनोरेक्सिया  या अरुचि  रोग कहते है |

एनोरेक्सिया या अरुचि रोग में रोगी को भूख नही लगती, | यदि जबरदस्ती भोजन किया भी जाये तो वह अरुचिकर यानि की बिना पसंद का लगता है | इस रोग या बीमारी  का दूसरा नाम अग्रिमांद भी है | जिस का अर्थ है- भोजन के प्रति रूचि का पूरी तरह से समाप्त हो जाना |

अरुचि रोग की प्रारम्भिक अवस्था में भूख की कमी और कमजोरी का अहसास होने लगता है | इस रोग से लगातार पीड़ित रहने से इंसान धीरे-धीरे कमजोर होने लगता है और उसकी कार्यक्षमता पर भी असर होने लगता है दोस्तों इस रोग के कुछ सामान्य लक्षण (Anorexia Symptoms) होते है जिन्हें पहचानकर हम इसका वचाब कर सकते है तो आइये जानते है एनोरेक्सिया के कुछ सामान्य लक्षण- (Anorexia Symptoms)

भूख न लगने की बीमारी के लक्षण 

  • खाना खाने की इच्छा न होना |
  • खून की कमी होना |
  • ज्यादा प्यास लगना |
  • थोडा सा काम करने पर थकान होना |
  • मानसिक बीमारी (Bimari) से ग्रस्त होना |
  • शरीर के वजन में दिन व दिन कमी होते जाना |
  • ह्रदय के समीप लगातार जलन होना |

एनोरेक्सिया  रोग के कारण (Causes Of Anorexia) शारीरिक और मानसिक हो सकते है इसके बारे में सही जानकारी होने से हम इससे बचाब भी कर सकते है इसके बारे में सही जानकारी होने से हम इससे बचाब भी कर सकते है तो आइये जानते है एनोरेक्सिया के कारण- (Causes Of Anorexia)

भूख न लगने की बीमारी के कारण 

  • चाय कॉफ़ी का अधिक सेवन करना |
  • भोजन का स्वादिष्ट न होना |
  • देर रात तक जागना |
  • पेट साफ़ न रहना |
  • बुखार होने की समस्या होना |
  • जिगर तथा आमाश्य की खराबी |
  • अधिक चिंता या तनाव में रहना |

भय, क्रोध, घवराहट, शोक आदि कारणों से जिगर (लिवर) से आमाश्य में आने वाला पाचक रस का स्त्राव कम होने के कारण भूख कम लगती है | दोस्तों इन लक्षण (Lakshan) व कारणों से हम इस रोग की पहचान कर सकते है और अपना बचाब कर सकते है | जिनमे कुछ घरेलु उपायों को भी शामिल कर सकते है तो आइये जानते है | एनोरेक्सिया (Anorexia) से बचाब के कुछ घरेलु उपाय-

भूख न लगने की बीमारी के घरेलु उपाय 

भूख ना लगने की समस्या से निजात पाने के लिये कई दवाइयों का सेवन भी किया जाता है लेकिन इसमे सबसे कारगार घरेलु उपाय माने जाते है | भूख ना लगना एक आम समस्या है तो आइये जानते कुछ घरेलु उपाय-

लहसून-

लहसून भूख जगाने की सबसे कारगर घरेलु उपाय है इसे खाने के बाद एक खास तरह के एंजाइम का स्त्राव होता है जो भूख जगाता है |

अदरक :  भूख न लगने की बीमारी

भूख जगाने के लिये आधा चम्मच कटे हुये अदरक काला नमक के साथ खाना खाने से आधा घंटे पहले खाये आपकी भूख बढ़ जायेगी |

संतरा

संतरों में भी भूख जगाने की क्षमता होती है संतरा न सिर्फ आपके पाचन तंत्र को ठीक करता है बल्कि इससे कब्ज भी दूर होती है |

मिंट

मिंट भूख लगाने की कुदरती दवा है एनोरेक्सिया (Anorexia) के इलाज में इसे आजमाया जा सकता है इसे खाने से डिप्रेशन और तनाव कम होता है और भूख बढती है |

लेमन बाम

यह नर्व टॉनिक की तरह काम करता है और इससे भूख भी लगती है इसे खाने से तनाव कम होता और नींद अच्छी आती है |

हर्बल चाय

हर्बल चाय या ग्रीन टी और कई तरह के जड़ी बूटियों को मिला कर बनी चाय पीने से भूख जगती है तनाव और डिप्रेशन कम हो जाता है |

मसाज

मसाज थेरेपी सिर्फ तनाव और डिप्रेशन ही नही दूर करती है बल्कि इससे भूख भी लगती है |

योग

योग एनोरेक्सिया (Anorexia) बीमारी (Bimari) से पैदा हुई भावनात्मक असुरक्षा को दूर भगाता है इसे पप्रयोग करने से आप बहुत जल्दी ठीक हो सकते है |

ध्यान

मन की अशांति एनोरेक्सिया (Anorexia) का खास लक्षण है इसे भगाने के लिये सुबह-शाम ध्यान करें मन और आत्मा को शांति मिलेगी और मन में सकारात्मक विचार आयेंगे |

एक्यूपंक्चर

एक्यूपंक्चर की मदद से एनोरेक्सिया (Anorexia) से लड़ा जा सकता है इसे प्रयोग करने से आपको अच्छा और रिलेक्स महसूस होगा |

मानवेन्द्र सिंह

मानवेंद्र सिंह सॉफ्ट प्रमोशन टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड में फिटनेस और हेल्थ ब्लॉगर हैं। उन्होंने 2006 में BHM स्नातक की डिग्री ली है। उन्हें स्वास्थ्य एवं विज्ञान अनुसंधान के क्षेत्र में लेखन का आनंद मिलता है।

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.