Abhayarishtam benefits and uses in hindi

आज के समय में आयुर्वेदिक प्रोडक्ट का उपयोग भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में हो रहा है | लगभग पतंजलि में हर बीमारी के आयुर्वेदिक प्रोडक्ट मिल जायेंगे जो 100% रिजल्ट देते है. ऐसा ही पतंजलि का एक प्रोडक्ट है अभयारिष्ट सिरप. आपने शायद इसका नाम नहीं सूना होगा लेकिन इसके फायदे आपको हैरान कर देंगे. आईये जानते है पतंजलि अभयारिष्ट सिरप के बारे में विस्तार से.

पतंजलि अभयारिष्ट सिरप – Patanjali Abhayarishtam in Hindi

अभयारिष्ट सिरप एक तरह की आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से निर्मित औषधि है. इसमें कई तरह की जड़ी-बूटियों को मिश्रित किया गया है.  पेट से संबधित बीमारियों के लिए यह सिरप वरदान है. बवासीर, कब्ज और पेट संबधी बीमारियों के लिए पतंजलि अभयारिष्ट सिरप बहुत फायदेमंद है.

अभयारिष्ट सिरप में पाए जाने वाले घटक या जड़ी-बूटियों

  • अभया
  • मृदिका
  • विडड़ग
  • मधुक कुसुम
  • जल
  • गुड़
  • गोक्षुर
  • त्रिवृत
  • धान्यक
  • धातकी
  • इंद्रवारुणी
  • चव्य
  • मधुरिका
  • दन्ती
  • मोचरस

पतंजलि अभयारिष्ट सिरप के फायदे : Abhayarishtam benefits and uses in hindi

1. पाचन तंत्र को ठीक करती है

हमारे शरीर में खाने को पचाने का कार्य पाचन तंत्र करता है और उसमे अगर किसी तरह की रूकावट आती है तो शरीर सही से काम करना बंद कर देता है. अभयारिष्ट सिरप में ऐसे गुण है जो मल-मूत्र की रूकावट को दूर करते है और पाचन तंत्र को दुरस्त रखती है. आप आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह लेकर अभयारिष्ट सिरप का उपयोग कर सकते है.

2. कब्ज दूर करने में

कब्ज ऐसी बीमारी है की अगर इसका समय रहते इलाज नहीं किया गया तो यह बहुत सारी बीमारियों का कारण बन सकती है. आज के समय में सबसे ज्यादा लोग कब्ज से पीड़ित रहते है. कब्ज का प्रमुख कारण गलत खानपान और अनियमित जीवनशैली है. ऐसे में पतंजलि अभयारिष्ट सिरप कब्ज के उपचार में बहुत फायदेमंद है. इस सिरप के इस्तेमाल से आप जल्द ही कब्ज से राहत पा लेंगे.

3. बवासीर (पाइल्स) को ठीक करने में

बवासीर यानी पाइल्स होने का प्रमुख कारण कब्ज ही है. अगर कब्ज का समय पर इलाज नहीं किया गया तो यह बवासीर का कारण बनती है. बवासीर होने पर शौच के समय दिक्कत होती है और जलन होती है तथा तेज दर्द होता है. ऐसे में पतंजलि अभयारिष्ट सिरप बवासीर की समस्या से राहत दिलाती है और कब्ज को भी रोकती है. अभयारिष्ट सिरप का खासकर इस्तेमाल बवासीर के इलाज में ही किया जाता है. बवासीर होने की शुरूआती अवस्था में अगर आप अभयारिष्ट सिरप का इस्तेमाल करते है तो यह आपके लिए बहुत फायदेमंद है.

4. लीवर और आंतो के लिए फायदेमंद है अभयारिष्ट सिरप

अभयारिष्ट सिरप का इस्तेमाल लीवर और आंतो से संबधित सभी तरह की बीमारियों में किया जाता है. अभयारिष्ट सिरप आंतो से दूषित मल को दूर करके आंतो को स्वस्थ रखती है.

पतंजलि अभयारिष्ट सिरप की खुराक और सेवन का तरीका

12 से 25 ML अभयारिष्ट सिरप ले और इसे ताजे साफ़ पानी के साथ मिलाकर ले. आप सुबह और शाम दोनों टाइम इसका सेवन कर सकते है.

पतंजलि अभयारिष्ट सिरप कहाँ से खरीदे

आप किसी पतंजलि स्टोर या मेडिकल से इसे खरीद सकते है. आप चाहे तो ऑनलाइन भी इसे आर्डर कर सकते है

अभयारिष्ट सिरप से जुड़ी सावधानियां

पतंजलि अभयारिष्ट सिरप का प्रयोग रोगी की पाचन शक्ति, उचित मात्रा, रोग और कब्ज को ध्यान में रखकर करना चाहिए. अगर किसी तरह की दवाई चल रही है तो एक बार डॉक्टर से सलाह लेकर इसका इस्तेमाल करना चाहिए

मानवेन्द्र सिंह

मानवेन्द्र सिंह

मानवेंद्र सिंह सॉफ्ट प्रमोशन टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड में फिटनेस और हेल्थ ब्लॉगर हैं। उन्होंने 2006 में BHM स्नातक की डिग्री ली है। उन्हें स्वास्थ्य एवं विज्ञान अनुसंधान के क्षेत्र में लेखन का आनंद मिलता है।

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.