कान का बहना दर्द और कीड़े संबंधी अनुभवी घरेलु उपचार….

0
299
कान का दर्द बहना और कीड़े संबंधी अनुभवी घरेलु उपचार

कान हमारे शरीर का प्रमुख अंग है| इसके बिना सब कुछ अजीब सा लगता है| कान का बहना बहुत ही कष्टकारी होता है| यदि कान का बहना एक बार शुरू हो गया तो बहुत मुश्किल से ठीक होता है| और बहुत तकलीफ देता है| कान में मेल जम जाती है| और इसे साफ ना करने पर यही धीरे धीरे फुंसी का रूप ले लेती है| बाद में यही फुंसी पक जाती है| और हमारे कान से मवाद निकलने लगती है| जिससे हमारे कान बहना शुरू हो जाते है| तो आइये जानते है| कुछ घरेलु उपचारों के बारे में जिससे कान दर्द और बहना ठीक हो जाये|

कान के बहने का कारण

कान का बहना बहुत ही दुखद होता है| कान में पानी चले जाने से और कान साफ न होने से या फिर कान में फोड़े फुंसी हो जाने से ऐसा अधिकतर होता है| अगर आप अपने कान को स्वस्थ रखना चाहते है तो इन बातों का ध्यान जरुर रखे|

  • कान को साफ करने के लिए किसी नुकीली वस्तु का प्रयोग करना |
  • फुंसी का पक जाना और मवाद का बहना |
  • कान में जख्म होने की वजह से फुंसिया होना |
  • कान में खुजली होना |
  • कान के परदे में एक छेद या खरोच से कान का बहना शुरू हो सकता है |
  • कोलेस्तिओटोमा एक गैर कैसंर रोग है, जो कान में विकसित हो सकता है |

कान बहने का घरेलु उपचार

अगर आपको कान दर्द और बहना की समस्या है तो इन उपचारों से आपको बहुत फायदा होगा है| और साथ ही मवाद निकलना भी बंद हो जायगा, इसलिए हमारे इस लेख को जरुर पढे आपको बहुत आराम मिलेगा|

सरसों के तेल से कान के बहने का उपचार :-

  • ४ चम्मच सरसों का तेल और २ टुकड़े मोम को गर्म कर ले, जब मोम पिघल जाये तो उतार कर एक टुकड़ा फिटकरी डाल कर इसे कान में डाल ले | इससे कान में होने वाला दर्द और कान से निकलने वाली मवाद भी बहना बंद हो जाती है|

नीम के प्रयोग से कान के बहने का उपचार :-

  • नीम के तेल में शहद मिला कर रुई के फोहे में लगा कर कान में लगा ले, इससे कान में मवाद बहना बंद हो जाता है| और फुंसी भी धीरे धीरे ठीक होने लगती है|

मान्क्द से कान के बहने का उपचार :-

  • मान्क्द के फल को भुज कर उसमे से उसका रस निकल ले, तथा उसको रोज सुबह शाम अपने कान में डालने से बहुत लाभ मिलता है|

फिटकरी से कान के बहने का उपचार :-

  • इसके लिए १० ग्राम भुनी हुई फिटकरी में एक चम्मच हल्दी को पीस कर बारीक़ चूर्ण बना ले, इस चूर्ण को थोडा सा कान में डाले, ऐसा करने से कान का दर्द और मवाद दोनों से छुटकारा मिलता है|

प्याज से कान के बहने का उपचार :-

  • प्याज को थोडा गर्म करे, फिर ठंठा होने पर उसको पीस कर रस निकल ले, इस रस को बूद बूद कर कान में डालने से मवाद से राहत मिलती है|

कली के चुने से कान के बहने का उपचार :-

  • इसके लिए आप एक ग्राम का चोथा भाग कली के चुने का ले इसमें गोमूत्र मिला कर कान में डाल ले, इससे आपके कान का दर्द एक दम ठीक हो जायगा, साथ ही कान का बहने में लाभकारी है|

हल्दी से कान के बहने का उपचार :-

  • इसके लिए ३ ग्राम हल्दी, १० ग्राम नीम के पत्ते के चूर्ण और ४ लहसुन की कलियों को २०० मिली सरसों के तेल में डाल कर पका ले | अब इस तेल को अपने कान में ३ – ४ बूद डाल ले, ऐसा करने से कान दर्द और बहना दोनों से छुटकारा मिलता है|

ऊपर दिए हुए उपाय को करने से कान का बहना बंद हो जाता है| ओए धीरे धीरे कान में हुई फुंसी भी ठीक हो जाती है| इन तरीको को अच्छे से अपनाने पर जरुर फायदा होगा| ये उपचार एक दम आयुर्वेदिक है इससे आपको कोई इफेक्ट भी नहीं होगा, इन उपचारों को एक बार जरुर करके देखे आपको बहुत लाभ होगा |

कैसे करे कान के दर्द को दूर…..

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.